Home > Mainslide > आज का राशिफल और पंचांग: 11 जुलाई दिन बुधवार, जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन

आज का राशिफल और पंचांग: 11 जुलाई दिन बुधवार, जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन

।।आज का पञ्चाङ्ग।।
आप सभी का मंगल हो 11 जुलाई दिन बुधवार

ऋतु-वर्षा
माह-आषाढ़
पक्ष-कृष्ण
तिथि-त्रयोदशी
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:17
सूर्यास्त-06:43
राहूकाल(अशुभमुहूर्त)दोपहर
12:00 से 01:30 तक
दिशाशूल- उत्तर
शुभदिशा-दक्षिण
अमृतमुहूर्त-प्रात 07:15 से 08:50 तक

आज का राशिफल और पंचांग: 11 जुलाई दिन बुधवार, जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन।।आज का राशिफल।।

मेष:-
आज घर परिवार के काम निपटाने के लिए आपको थोड़ा बुद्धि विवेक से काम लेना होगा। वाणी पर संयम रखें, नहीं तो किसी से वाद-विवाद या मनमुटाव हो सकता है। खर्च पर संयम रखने से निरर्थक खर्च टाल सकेंगे। आर्थिक विषयों में सावधानी बरतें।
राशिरत्न:-मूँगा

वृष:-
आप अपने परिवार की आर्थिक जरूरतों को आज पूरा करेंगे। आर्थिक लाभ होने की संभावनाएं हैं। मन में उत्साह तथा विचारों की स्थिरता के कारण सभी कार्य आप अच्छी तरह से कर सकेंगे। आज मनोरंजन, सौंदर्य-प्रसाधन, आभूषण आदि के पीछे खर्च होगा।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

मिथुन:-
आपकी वाणी के कारण समस्‍या न खड़ी हो इसका ध्यान रखें। आवेश और उग्रता के कारण किसी से तकरार न हो जाए इसका ध्यान रखें। आज आंखों में पीड़ा हो सकती है। परिजनों के साथ कलह होने की आशंका है। आज आय कम और खर्च अधिक होगा।
राशिरत्न:-पन्ना

कर्क:-
आज का दिन आपके लिए लाभकारी है। नौकरी और व्यापार में भी लाभ के संकेत हैं। मित्रों के साथ आनंदपूर्वक समय बिता सकते हैं। अविवाहित लोगों के लिए विवाह का योग है। आय के साधनों में वृद्धि होगी। आकस्मिक धन मिलेगा। सैर-सपाटे पर भी जा सकते हैं।
राशिरत्न:-मोती

सिंह:-
आपके कार्यक्षेत्र में आज का दिन खास हो सकता है। उच्च अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। आप आज अपना कार्य दृढ मनोबल और पूर्ण आत्मविश्वास के साथ संपन्न करेंगे। पिता के साथ संबंध प्रेमपूर्ण रहेंगे और उनसे लाभ भी होगा। जमीन, वाहन, संपत्ति से जुडे़ कार्य करने के लिए आज का दिन अनुकूल है।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या:-
आज आपको किसी समस्‍या का सामना करना पड़ सकता है। मन चिंता से व्यग्र रहेगा। शारीरिक रूप से स्फूर्ति का अभाव रहने से थकान होगी। कार्यक्षेत्र में ऊपरी अधिकारियों का व्यवहार नकारात्मक रहेगा। संतान के स्वास्थ्य के विषय में चिंता रहेगी और उनके साथ मतभेद भी हो सकता है।
राशिरत्न:-पन्ना

तुला:-
किसी के साथ वाद-विवाद या झगड़ा न करें। वाणी पर संयम बरतना आप ही के हित में रहेगा। हितशत्रुओं से भी सावधान रहें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। रहस्यमय विषय तथा गूढ़ विद्या के प्रति आप आकर्षित होंगे और आध्यात्मिक चिंता के द्वारा मानसिक शांति प्राप्त कर सकेंगे।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

वृश्चिक:-
आज का दिन आपके लिए मनोरंजन का दिन है। मित्रों के साथ पार्टी या पिकनिक में आज का दिन बहुत अच्छी तरह से बीतेगा। वस्त्राभूषण, वाहन तथा भोजन का अच्छा सुख प्राप्त होगा। आपकी मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु:-
आज का दिन आपके लिए बहुत अनुकूल है । घर का वातावरण आनंदप्रद रहेगा। शारीरिक रूप से स्वस्थ रहेंगे और मन भी प्रसन्‍न रहेगा। नौकरी और व्यावसायिक स्थल पर वातावरण अनुकूल रहेगा। मायके से अच्छे समाचार आएंगे। प्रतिस्पर्धियों पर विजय प्राप्त होगी।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर:-
आज के दिन आप आलस्य, थकान, अशक्ति रहने के कारण अस्वस्थता का अनुभव करेंगे। व्यावसायिक क्षेत्र में भाग्य का सहकार नहीं मिलेगा। उच्च अधिकारी को आप के कार्य से संतोष नहीं होगा। मन में दुविधा रहने के कारण निर्णय लेने में बाधा आएगी। संतान का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है।
राशिरत्न:-नीलम

कुंभ:-
स्वभाव में हठीलापन छोड़े।अधिक भावुक्ता के कारण मन में अस्वस्थता का अनुभव होगा। घर और संपत्ति से जुडे कार्यो में आज संभलकर चलने की जरूरत है। माता से लाभ होगा। विद्याप्राप्ति के लिए आज अनुकूल दिन है। आर्थिक आयोजन भी अच्छी तरह से होंगे।
राशिरत्न:-नीलम

मीन:-
आवश्यक निर्णय लेने के लिए आज का दिन शुभ है। विचारों में स्थिरता तथा मन में दृढता रहने से आप अपना कार्य बहुत अच्छी तरह से कर सकेंगे। मित्रों के साथ प्रवास-पर्यटन का आयोजन करेंगे। भाई-बंधुओं के साथ संबंधों में निकटता आएगी। सामाजिक रूप से मान-सम्मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
राशिरत्न:-पुखराज

।।आज के दिन का विशेषमहत्व।।
1 आज वर्षाऋतु आषाढ़ माह कृष्णपक्ष त्रयोदशी तिथि दिन बुधवार है।

2 आज विवाह मुहूर्त व सर्वार्थसिद्धि योग है।

।।प्रेरणा दाई छंद।।

मुनि श्राप जो दीन्हा अति भल कीन्हा परम अनुग्रह मैं माना।
देखेउँ भरि लोचन हरि भवमोचन इहइ लाभ संकर जाना।।

अर्थ:-माता अहिल्या प्रभू श्री राम की स्तुति करते हुवे कहती हैं कि हे प्रभू मुझे मुनि ने श्राप दे कर अच्छा ही किया उनका श्राप नहीअपितु
मेरे लिए वरदान ही दिया मैं उनका परम् अनुग्रह मानती हूं, क्योंकि मैंने उनके कारण आपको आंख भर कर देखा, आप संसार सागर से पार करने वाले हैं । हे नाथ आपके दर्शन को ही भगवान शंकर सबसे बड़ा फल मानते हैं।

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व श्रीरामकथा व श्रीमद्भागवत कथा व्यास ।।
।।श्रीअयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Loading...

Check Also

राजस्थान: आखिर इस बात पर पायलट और गहलोत को लेकर क्यों मजबूर हुए राहुल गांधी

राजस्थान का सियासी रण काफी दिलचस्प हो गया है. एक तरफ सत्ताधारी बीजेपी, पार्टी में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com