आज का राशिफल और पंचांग: 16 जुलाई दिन सोमवार, जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन

।।आज का पञ्चाङ्ग।।
आप सभी का मंगल हो 16 जुलाई दिन सोमवार

ऋतु-वर्षा
माह-आषाढ़
पक्ष-शुक्ल
तिथि-चतुर्थी
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:18
सूर्यास्त-06:42
राहूकाल(अशुभमुहूर्त)प्रातः
07:30 से09:00 तक
दिशाशूल-पूर्व
शुभदिशा-पश्चिम
अमृतमुहूर्त-प्रातः 05:34 से 07:20 तक

आज का राशिफल और पंचांग: 16 जुलाई दिन सोमवार, जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन।।आज का राशिफल।।

मेष:-
आज परिजनों के साथ वाद-विवाद ना हो, इसका ध्यान रखें अन्यथा तकलीफ हो सकती है। स्वास्थ्य नरम रहेगा, सर्दी, कफ, बुखार की समस्या हो सकती है। निरर्थक आर्थिक खर्च से बचें। प्रवास-पर्यटन को टालना बेहतर होगा। शारीरिक और मानसिक आरोग्य अच्छा रहेगा।
राशिरत्न:-मूँगा

वृष:-
आज आपको हर कार्य में सफलता मिलेगी। प्रतिस्पर्धियों पर आप विजय प्राप्त कर सकेंगे। मान-सम्मान मिलेगा। मध्याह्न के बाद स्थिति थोड़ी बदल सकती है। किसी से पैसों की लेन-देन लापरवाही से बचें। छोटा प्रवास हो सकता है।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

मिथुन:-
शारीरिक और मानसिक रूप से व्यग्रता का अनुभव हो सकता है। धन का व्यय ना हो, इसका ध्यान रखें। परंतु मध्याह्न के बाद मित्रों के साथ हुई भेंट से आप प्रसन्न हो जाएंगे। आर्थिक लाभ होगा। भाई-बंधुओं के साथ प्रेम बढ़ेगा। भाग्यवृद्धि के प्रसंग बनेंगे।
राशिरत्न:-पन्ना

कर्क:-
दिन आनंद में बीतेगा। आज के दिन शारीरिक और मानसिक सुख अच्छा रहेगा। मित्रों से भेंट होगी। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। अचानक धन लाभ हो सकता है। भाग्य आपका भरपूर साथ देगा। मध्याह्न के बाद क्रोध पर संयम रखें।
राशिरत्न:-मोती

सिंह:-
किसी से पैसों की लेन-देन में लापरवाही से बचें। स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहें। मध्याह्न के बाद समय आपके लिए अनुकूल रहेगा। आप नए कार्यो का प्रारंभ कर सकेंगे। आर्थिक लाभ होगा। मान-सम्मान में वृद्धि होगी। प्रमोशन के योग हैं।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या:-
आज आपको कई क्षेत्रों से लाभ होने की संभावना है। व्यावसायिक क्षेत्र में लाभ होगा। साथ काम करने वालों का पूर्ण सहयोग मिलेगा। मित्रवर्ग के लिए जो व्यय होगा, वह लाभप्रद रहेगा। प्रवास या पर्यटन भी होगा। मध्याह्न के बाद आपका मन उलझन में रहेगा।
राशिरत्न:-पन्ना

तुला:-
आज का दिन आपके शुभ है। धार्मिक यात्रा पर जा सकते हैं। विविध क्षेत्रों में लाभ मिलेगा। अधिकारियों की तरफ से प्रोत्साहन मिल सकता है। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। मित्रों के साथ मुलाकात होगी। स्वास्थ्य में अनुकूलता बनी रहेगी।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

वृश्चिक:-
मंदिर और धार्मिक स्थल पर आज जा सकते हैं। विविध क्षेत्रो में लाभ मिलने की संभावना है। विदेश गमन के लिए परिस्थिति अनुकूल होगी। अधिकारियों को आपके कार्य से प्रसन्नता होगी। कार्यक्षेत्र में कुछ बदलाव हो सकता है।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु:-
आज शुरू किए गए नए कार्य अपूर्ण रह सकते हैं। क्रोध पर संयम रखें। परिजनों के साथ वाद-विवाद न करें, हानि हो सकती है। मध्याह्न के बाद आपकी शारीरिक और मानसिक स्थिति में सुधार होने की संभावना है। घरेलू जीवन सुखद रहेगा।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर:-
मित्रो के साथ दिन आनंदपूर्वक बीतेगा। साझेदारी से लाभ होगा। व्यापार के क्षेत्र में भी आपको लाभ मिलेगा। मध्याह्न के बाद स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा। नकारात्मक विचारों को मन में ना आने दें।
राशिरत्न:-नीलम

कुंभ:-
दिन पूर्ण रूप से शुभ फलदायी होगा। व्यवसाय करनेवालों के लिए दिन अनुकूल रहेगा। शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहेंगे। दिनभर मनोरंजक प्रवृत्ति में आप व्यस्त रहेंगे। भाई-बंधुओं से लाभ मिलेगा। आर्थिक लाभ के योग हैं।
राशिरत्न:-नीलम

मीन:-
किसी कारणवश आकस्मिक धन खर्च हो सकता है। स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना होगा। मध्याह्न के बाद घर में आनंद और शांति का वातावरण रहेगा। कार्य में यश और कीर्ति मिलेगी। व्यावसायिक क्षेत्र में लाभ होगा।
राशिरत्न:-पुखराज

।।आज के दिन का विशेष महत्व।।
1 आज वर्षा ऋतु आषाढ़ माह शुक्लपक्ष चतुर्थी तिथि दिन सोमवार है।

2 आज विवाह मुहूर्त है रवियोग व गणेश चतुर्थी व्रत भी है।

।।प्रेरणा दाई चौपाई।।
चले राम लछिमन मुनि संगा। गए जहाँ जग पावनि गंगा।।
गाधिसूनु सब कथा सुनाई। जेहि प्रकार सुरसरि महि आई।।

अर्थ:-गोस्वामी तुलसीदास जी वर्णन करते हैं कि प्रभू श्रीराम ,लक्ष्मण, व महामुनि श्री विश्वामित्र जी माताअहिल्या के आश्रम से आगे चले और शायं काल भुवन पावनी माता श्री गंगा जी के तट के समीप रुके। महामुनि श्री विश्वामित्र जी ने वो सारी कथा प्रभू श्री रामभद्र को सुनाई जैसे- जैसे माता गंगा जी का अवतरण हुवा। यद्यपि परमात्मा श्री राम सब कुछ जानते हैं किंतु अपने से श्रेष्ठ का पूरा सम्मान कर बड़ी रोचकता से गंगावतरण की कथा का श्रवण लाभ ले रहे है।
“अस्तु हम आप को भी अपने श्रेष्ठ के सामने अपने बोध को नहीं बल्कि विनम्रता का परिचय देना चाहिए।”

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व संगीतमय श्रीरामकथा व श्रीमद्भागवत कथा व्यास।।
।।श्रीअयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामला: बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के पति के खिलाफ जारी हुआ गिरफ्तारी वारंट

मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड मामले में समाज