आज का राशिफल और पंचांग: 16 जून 2018 दिन शनिवार, जानें किन राशी वालों पर है भगवान की कृपा

।।आज का पञ्चाङ्ग।।
आप सभी का मंगल हो 16 जून दिन शनिवार

ऋतु-ग्रीष्म
माह-ज्येष्ठ
पक्ष-शुक्ल
तिथि-तृतिया
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:13
सूर्यास्त-06:47
राहूकाल(अशुभमुहूर्त)प्रातः
09:00 से 10:30 तक
दिशाशूल-पूर्व
शुभदिशा-पश्चिम
अमृतमुहूर्त-दोपहर 03:51 से 05:35 तकआज का राशिफल और पंचांग: 16 जून 2018 दिन शनिवार, जानें किन राशी वालों पर है भगवान की कृपा

।।आज का राशिफल।।

मेष- आज का दिन आपके लिए चुनौतीपूर्ण रहेगा। आपके सामने ढ़ेर सारी जिम्मेदारियां आएंगी। सभी की उम्मीदों पर खरा उतरने की आपकी विशेषता आपको यश दिलाएगी।
राशिरत्न:-मूँगा

वृषभ- राशि का स्वामी शुक्र आय भाव में होने से शुभ हो गया है। धीरे धीरे सफलता की ओर कदम बढ़ा सकते हैं। कोई नया कार्य शुरू करने के लिए समय अनुकूल नहीं है। दिन का काम जल्दी खत्म करके परिवार के साथ बिताएं।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

मिथुन- आज आपको बौद्धिक तथा व्यावसायिक क्षेत्र में सफलता मिलेगी। संतान पक्ष की ओर से हर्षदायक समाचार मिलने से मनोबल बढ़ेगा। भाग्योदय का दिन है, सचेष्ट रहें।
राशिरत्न:-पन्ना

कर्क- आज शुभ कार्यों में आपकी दिलचस्पी बढ़ेगी। आपके द्वारा लिया गया निर्णय आगे लाभप्रद रहेगा। संतान पक्ष के विवाह में आ रही अड़चनें समाप्त होंगी। जनसंपर्क में वृद्धि होने से आप प्रफुल्लित रहेंगे।
राशिरत्न:-मोती

सिंह- आज आपका भाग्य हर काम में आपका साथ देगा। विरोधियों का षड़यंत्र असफल रहेगा। सांसारिक सुख भोग के साधनों पर शुभ व्यय होने से मन में हर्षित होगा।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या- आज राशि के स्वामी बुध राहु के साथ द्वादश भाव में संचार कर रहे हैं। वृद्धजनों की सेवा तथा पुण्य कार्यों पर धन व्यय होने से मन में हर्षित रहेगा। प्रतिद्वन्दियों के लिए आप सिरदर्द बने रहेंगे।
राशिरत्न:-पन्ना

तुला- आज संभव है कि आत्यधिक श्रम करने पर भी आय कम और व्यय अधिक होगा। गुप्त शत्रु सक्रिय रहेंगे, व्यर्थ की भागदौड़ पारिवारिक अशान्ति विशेष रूप से रहेगी। सूर्यास्त होते समय कुछ राहत मिल जाएगी।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

वृश्चिक- आज का दिन चुनौतीपूर्ण रहेगा। कोई महत्वपूर्ण व्यवसायिक अनुबंध आपके पक्ष में तय हो सकता है। आप अपनी बात दूसरों तक पहुंचाने में कामयाब हो जाएं तो आने वाले दिनों में आपसे वरिष्ठ व्यक्ति भी आपकी प्रशंसा करेंगे।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु- आज आपको राज्य कार्यों में सफलता मिलेगी, घर में धन धान्य की वृद्धि होगी, संबंधियों एवं मित्रों से धन का लाभ होगा, शत्रुओं पर विजय और मनोरथ सिद्धि होगी। रात्रि में शुभव्यय होगा एवं मंगलमय समारोह में सम्मिलित होने का अवसर प्राप्त होगा।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर-आज उच्चाधिकारियों की कृपा से भूमि-जायदाद संबंधी विवाद का समाधान भी हो सकता है। सायंकाल के समय स्वास्थ्य कुछ ढीला हो सकता है, ध्यान रखें।
राशिरत्न:-नीलम

कुंभ- आज व्यापार में उन्नति का योग बन सकता है थोड़ा धार्मिक रहें।किसी वृद्ध महिला का आशीर्वाद मिलने से उन्नति के विशेष अवसर प्राप्त होंगे। बहुत समय से भाई बन्धुओं से चला आ रहा विवाद सुलझ जाएगा।
राशिरत्न:-नीलम

मीन- आज पूरे दिन आय के नये स्रोत बनते रहेंगे। विरोधपक्ष पराजित होगा। आपके भाग्य का सितारा फिर से चमकने लगेगा। व्यवसाय में अधिक धन लगाना लाभकारक रहेगा।
राशिरत्न:-पुखराज

।।आज के दिन का विशेष महत्व।।
1 आज ग्रीष्मऋतु ज्येष्ठमाह शुक्लपक्ष तृतिया तिथि शनिवार दिन है।
2 आज महाराणाप्रताप जयंती व ईदुल फितर है।

।।प्रेरणा दाई चौपाई।।
कहँ निसिचर अति घोर कठोरा। कहँ सुंदर सुत परम किसोरा।।
सुनि नृप गिरा प्रेम रस सानी। हृदयँ हरष माना मुनि ग्यानी।।

अर्थ:-गोस्वामी तुलसीदास जी वर्णन करते है कि महाराज श्री दशरथ जी ने महामुनि विश्वामित्र से कहा कि कहाँ अत्यंत कठोर राक्षस कहाँ ये परम् सुंदर किशोर बालक ये मैं कैसे देदूँ। यह बात सुन कर श्री विश्वामित्र जी को क्रोध नहीं आया ,बल्की राजा का अपने पुत्रों के प्रति प्रेम को देख कर उन महाज्ञानी विश्वामित्र जी का हृदय हर्षित हो गया। क्यों? क्यों कि बेटे को तो संसारी लोग भी भगवान समझते हैं बेटे को भगवान समझना दूसरी बात है और भगवान को बेटा समझना दूसरी बात है।ये महाराज श्री दशरथ जी भगवान को बेटा समझते हैं।
“अस्तु ये भक्ति सिद्धान्त की विशेषता है इसी को सम्बन्धानुगाभक्ति मानते है।”

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वामी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व संगीतमय सरस् श्री रामकथा प्रवक्ता।।
।।श्री अयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मात्र 11 दिनों में कुबेर देव के ये चमत्कारी मंत्र आपको बना देगे धनवान

वर्तमान समय की बात करें तो हर एक