आज से मंगल कर रहा है राशि परिवर्तन, इन राशियों पर आएगा घोर संकट, करें ये उपाय

- in धर्म

हर ग्रह किसी न किसी खास से जुड़ा होता है यानि किसी खास को प्रभावित करता है। जैसे शनि को दुख का तो चंद्र को मन का तो मंगल को रक्त का स्वामी माना जाता है या यूं कहे प्रभाव क्षेत्र या स्वामी माना जाता है। मंगल की शुभ स्थिति में व्यक्ति शक्तिशाली और साहसी बनता है। शरीर में नाभि के आस-पास का क्षेत्र मंगल का माना जाता है।मंगल के धनु राशि में इस गोचर से विभिन्न राशियों पर भी अलग-अलग प्रभाव होगा।

आज से मंगल कर रहा है राशि परिवर्तन, इन राशियों पर आएगा घोर संकट बचने के लिए अवश्य करें ये उपायदरअसल इस बार भी 7 मार्च यानि बुधवार की शाम 06:28 पर मंगल धनु राशि में प्रवेश करेगा और यह 2 मई को शाम 04:17 तक वहीं पर रहेगा। ज्योतिष में मंगल मेष और वृश्चिक राशि का स्वामी माना जाता है। ज्योतिष के अनुसार भले ही ग्रह फायदा या नुकसान पहुंचाते हैं, लेकिन कुछ खास उपाय करने से इनके नकारात्मक प्रभाव को कम किया जा सकता है।

मेष राशि:
7 मार्च से मंगल का ये गोचर आपके नवें स्थान, यानी भाग्य स्थान पर होगा। अतः मंगल के इस गोचर से आपको हर तरह का सुख मिलेगा और भाग्य का पूरा साथ मिलेगा|7 मार्च से 2 मई के बीच शस्त्र, चिकित्सा और कृषि के व्यवसाय आदि से जुड़े लोगों को धन लाभ होगा।

उपाय
भाइयों को जब भी जरूरत पड़े, तो उनकी सहायता जरूर करें ,घर में बड़ा भाई है, तो उसकी पत्नी को कुछ गिफ्ट करें और आशीर्वाद लें।

वृष राशि :
मंगल का यह गोचर आपके आठवें स्थान पर 2 मई तक के लिए आपको अस्थाई रूप से मांगलिक बना देगा। दरअसल जन्मपत्रिका में पहले, चौथे, सातवें, आठवें या बारहवें स्थान पर मंगल के गोचर से जातक मांगलिक कहलाता है।

उपाय
अगर आपके घर की दक्षिण दिशा में कोई दरवाजा है तो 2 मई तक जितना हो सके, उसे बन्द रखें या पर्दा लगाकर रखें। इसके अलावा जब रोटी सेंकने के लिए तवा रखें, तो उसके गर्म होने पर पानी के छींटे मारने के बाद ही रोटी सेंके।

मिथुन राशि :
आपके सातवें स्थान पर मंगल गोचर करेगा। सातवें स्थान पर मंगल का यह गोचर वृष राशि वालों की तरह आपको भी 2 मई तक के लिए मांगलिक बना देगा।मंगल के इस गोचर से धार्मिक कार्यों में और साथ ही गणित विषय में आपकी रुचि बढ़ेगी।

उपाय
2 मई तक बांस से बनी कोई भी चीज़ घर में लाना आवॉयड करें,अपनी बहन या बुआ को लाल रंग के कपड़े गिफ्ट करें और उनका आशीर्वाद लें।

कर्क राशि :
इस राशि के जातकों के छठे स्थान पर मंगल गोचर करेगा। मंगल का यह गोचर समाज में आपकी ताकत बढ़ाएगा और 7 मार्च से 2 मई के बीच आपका परिचय समाज के कुछ अच्छे लोगों से होगा। जिसका फायदा आने वाले समय में आपको जरूर मिलेगा।

उपाय
अगर आपके भाई आपसे दूर रहते हैं या अन्य किसी कारणवश वे आपकी दी हुई वस्तु न लें, तो उन चीज़ों को पानी में बहा दें।

सिंह राशि :
मंगल के इस पांचवें स्थान पर गोचर से आपको संतान का सुख मिलेगा। आपकी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी होगी और आपको गुरु का पूरा साथ मिलेगा। साथ ही दाम्पत्य जीवन में भी मधुरता रहेगी।

उपाय
रात के समय सिरहाने पर पानी का बर्तन रखकर सोएं और छोटे बच्चों को दूध गिफ्ट करें।

कन्या राशि :
आपके चौथे स्थान पर मंगल गोचर करेगा। आपको भूमि-भवन, वाहन का सुख मंगल के इस गोचर से मिलेगा और माता का सहयोग भी मिलेगा। आपकी संतान और भाइयों को भी शुभ फल प्राप्त होंगे।

उपाय
रोटी के टुकड़े करके पक्षियों को डालें,सुबह उठकर सबसे पहले पानी से कुल्ला करें।

तुला राशि:
मंगल आपके तीसरे स्थान पर गोचर करेगा। आपका गृहस्थ जीवन मंगल के इस गोचर से ठीक रहेगा। आप दूसरों की हर संभव मदद करेंगे।साथ ही ससुराल पक्ष से आर्थिक लाभ भी मिलेगा, लेकिन इस दौरान ध्यान रहे कि किसी से भी कर्ज न लें।

उपाय
अनचाहे खर्चों से बचने की कोशिश करें ,मन्दिर में शहद दान करें।

वृश्चिक राशि:
मंगल का यह दूसरे स्थान पर गोचर आपके लिए मिले-जुले परिणाम लेकर आएगा। आपको आर्थिक रूप से लाभ होगा, लेकिन आया हुआ पैसा अधिक समय तक आपके पास नहीं टिकेगा।

उपाय
सुबह उठकर घर की बड़ी महिलाओं का आशीर्वाद लें ,भाइयों को जब भी जरूरत हो, उनकी मदद करें।

धनु राशि :
आपके पहले स्थान पर मंगल के इस गोचर से आपका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा और शत्रुओं से आपको कोई परेशानी नहीं होगी। ‘मित्राणां उदयस्तव’, यानी आपके मित्रों का उदय होगा। साथ ही भाई-बहनों से हर कदम पर सहयोग मिलेगा।

उपाय
शुक्रवार के दिन मन्दिर में कपूर या दही का दान करें।

मकर राशि :
मंगल के बारहवें स्थान पर इस गोचर से आपके पास धन की कमी नहीं होगी और आप प्रभावशाली होंगे। लेकिन 2 मई तक आपको अपने खर्चों और अपने गुस्से पर संयम रखना चाहिए।

उपाय
कुत्ते को मीठी रोटी डाले ,2 मई तक खाकी रंग की टोपी या पगड़ी से सिर ढककर रखें।

कुंभ राशि:
आपके ग्यारहवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आप साहसी और न्यायप्रिय होंगे, आध्यात्मिक विचारों के प्रति आपकी आस्था बढ़ेगी।7 मार्च से 2 मई के बीच आपके साथ-साथ आपके माता-पिता को भी आर्थिक रूप से लाभ होगा। साथ ही पशुपालक और व्यापारी वर्ग को भी कई तरह से फायदे मिलेंगे। हालांकि इस दौरान आपको अपनी सेहत का ख्याल रखने की आवश्यकता है।

उपाय
अपनी बेटी के पति और बच्चों को चादर गिफ्ट करें ,कुत्ते को रोटी डालें।

मीन राशि :
दसवें स्थान पर मंगल के इस गोचर से आपके कदम जहां भी पढ़ेंगे, वहां तरक्की ही तरक्की होगी। आपका गृहस्थ जीवन सुखी होगा और सेहत भी ठीक रहेगी।

उपाय
चूल्हे पर दूध उबालते समय ध्यान रखें कि दूध उबलकर बर्तन से बाहर न गिरे।

You may also like

गणेश चतुर्थी: इन चीजों के बिना अधूरी है भगवान गणेश जी की पूजा, नहीं किया तो अभी समय है

13 सितंबर से पूरे हिंदुस्तान में गणेश चतुर्थी