ये है दुनिया का इकलौता सांड, जिसने जिम में मेहनत करके बनाई ऐसी खतरनाक बॉडी, दुनिया हो रही है इसकी दीवानी

अगर आप ये सोचते हैं कि बॉडीबिल्डिंग सिर्फ इंसान ही कर सकते हैं तो आप गलत सोचते हैं। आज हम आपको दिखाने जा रहे हैं बुल की ऐसी नस्ल, जिसे देखकर अच्छे अच्छों के होश उड़ जाते हैं।सांड

इस बॉडीबिल्डर बुल को बेल्जियन बुल के नाम से जाना जाता है। कई सालों तक चले रिसर्च और कई क्रॉस ब्रीडिंग की प्रक्रिया से गुजरने के बाद तैयार किये गए हैं ये बुल। 1997 में पहला बॉडीबिल्डर बुल तैयार किया गया था। इनके पुरे बॉडी की मसल्स आम बुल्स के मुकाबले कई गुना ज्यादा ग्रो करती हैं। इनका रंग इनके ब्रीडिंग प्रोसेस पर निर्भर करता है। व्हाइट और ब्लू-ब्लैक के अलावा ये बॉडीबिल्डर बुल रेड कलर में भी पाए जाते हैं।

इसे भी पढ़े: 95% लोग नहीं बता पाये इस सवाल का जवाब, आपका भी इस सवाल को देखकर घूम जायेगा दिमाग…

सांड

इन बुल्स की हाइट 1.50 मीटर तक होती है। आम बुल्स का वजन जहां 900 केजी तक होता है वहीं इन बॉडीबिल्डर बुल्स का वजन 1300 केजी तक हो सकता है। इस ब्रीड के बछड़े जन्म के समय आम बछड़ों जैसे ही दिखते हैं।

लेकिन 4 से 6 हफ्तों के बाद इनके मसल्स फैलने लगते हैं। वैसे तो बेल्जियन बुल्स और सांडों के मुकाबले शांत स्वभाव के होते हैं पर कोई भी इनसे उलझना नहीं चाहेगा।  इनसे जिम में खास तरीके की एक्सर्साइज भी करवाई जाती है ।

 

Facebook Comments

You may also like

पाकिस्तान में जहाँ हिन्दुओं के साथ इतना अत्याचार होता है, वहीँ नवाबों की तरह रहता है यह राजपूत

करणी सिंह : पाकिस्तान का नाम सुनते ही