राजनीति से थक गया, ये मेरा आखिरी चुनाव: सिद्धारमैया

- in चुनाव, राजनीति

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार आखिरी दौर में है. पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं समेत सभी उम्मीदवार दिन-रात जनता के बीच जाकर वोट की अपील कर रहे हैं. कांग्रेस नेता और कर्नाटक के मुख्यमंत्री के. सिद्धारमैया भी जोर-शोर से प्रचार में जुटे हैं और उन्होंने बड़ा ऐलान किया है.

सिद्धारमैया बुधवार को अपने गृहश्रेत्र और परंपरागत सीट चामुंडेश्वरी में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे. यहां उनसे इंडिया टुडे टेलीविजन के कंसल्टिंग एडिटर राजदीप सरदेसाई ने बात की. राजदीप से बात करते हुए सिद्धारमैया ने ऐलान किया कि यह उनका आखिरी चुनाव होगा.

2 सीटों पर क्यों लड़े चुनाव

के. सिद्धारमैया से जब दो सीटों से चुनाव लड़ने पर सवाल किया गया तो उन्होंने इसे जनता की मांग बताया. हार के डर जैसे विपक्षियों के आरोप पर सिद्धारमैया ने कहा, ‘मैंने कभी ऐसा नहीं सोचा था और न ही कभी मैं दो सीटों से चुनाव लड़ा हूं. जनता, कार्यकर्ता और पार्टी नेता चाहते थे कि मैं दो सीटों से लड़ूं, इसलिए ऐसा करना पड़ा.’

चामुंडेश्वरी सीट पर जेडीएस उम्मीदवार से कड़ी टक्कर मिलने के सवाल पर सिद्धारमैया ने कहा कि वो अपनी जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं. उन्होंने कहा कि यहां मुकाबला उतना कड़ा नहीं है और हम आसानी से जीत जाएंगे.

देवेगौड़ा पर क्या बोले सिद्धारमैया

जनता दल सेक्यूलर और एचडी देवेगौड़ा की चुनौती पर भी सिद्धारमैया ने जवाब दिया. उन्होंने कहा, ‘देवेगौड़ा 2006 में भी मुझे सबक सिखाने की चुनौती दे चुके हैं, लेकिन वो फेल हो गए थे.’ सिद्धारमैया ने ये भी दावा किया कि बीजेपी और जनता दल सेक्यूलर मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि दोनों के बीच औपचारिक गठबंधन नहीं है, लेकिन मैदान पर दोनों दल मिलकर लड़ रहे हैं.

अभी अभी: दिल्ली सहित उत्तर भारत में भूकंप के झटके, लोग घरों से निकले बाहर

न किंग, न किंगमेकर

किसी भी दल को पूर्ण बहुमत न मिलने की स्तिथि पर देवेगौड़ा ने कहा कि ऐसी सूरत नहीं बनेगी. उन्होंने दावा किया कि जेडीएस को 20-25 सीटें मिलेंगी. ऐसे में वो न किंग बन पाएगी और न ही किंगमेकर.

मोदी पर क्या बोले सिद्धारमैया

सिद्धारमैया ने भाषणों में पीएम मोदी के आरोपों पर भी जवाब दिया. उन्होंने कहा, ‘मोदी अपने भाषण में मुझे जवाब देने के लिए उकसाते हैं. वो झूठ बोलते हैं और गलत इल्जाम लगाते हैं. वो लगातार गलत आरोप लगा रहे हैं, इसलिए अब मानहानि का दावा किया है.’

राहुल पर युवाओं-महिलाओं की नजर

मोदी लहर को नकारते हुए सिद्धारमैया ने कहा कि सोनिया गांधी जी की रैली में एक लाख लोग थे. उन्होंने कहा कि यहां कोई मोदी लहर नहीं है और पीएम मोदी के भाषण का कोई असर नहीं है. युवा और महिलाएं राहुल गांधी को पंसद कर रहे हैं.

यह आखिरी चुनाव

मैं 100 फीसदी जीतूंगा और कांग्रेस की सरकार वापसी करेगी. उन्होंने ऐलान किया, ‘यह मेरा आखिरी चुनाव है. मैं चुनावी राजनीति से थक गया हूं. 1978 में पहला चुनाव लड़ा था. मैं कांग्रेस में रहूंगा और पार्टी को हमेशा समर्थन करूंगा.’ उन्होंने ये भी कहा कि कांग्रेस 120 से ज्यादा सीटें जीतेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अमित शाह ने वसुंधरा राजे के लिए किया ये बड़ा ऐतिहासिक ऐलान…

जयपुर: राजस्थान में इसी साल होने वाले विधानसभा चुनाव