17 साल की इस लड़की ने किया ऐसा काम कि बन गई अंतरराष्ट्रीय आइकन

इजरायल के कब्जे वाले वेस्ट बैंक में एक 17 साल की लड़की ने दो इजरायली सैनिकों को थप्पड़ जड़े थे। अब वह फिलिस्तीनी विरोध-प्रदर्शन की प्रतीक बन चुकी है। इस लड़की नाम है अहद तमीमी। दरअसल, आज से करीब आठ महीने पहले दिसंबर में अहद ने इजरायली सेना के प्रदर्शनकारियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई का विरोध किया था। उसने दो इजरायली सैनिकों को थप्पड़ मार उन्हें धक्का दिया था। इसी के चलते उसे इजरायली जेल में बंद कर दिया गया। वह रविवार को जेल से रिहा हुई है।

मां ने सोशल मीडिया पर किया वीडियो पोस्ट

अहद को बाद में जमानत मिल रही थी लेकिन उसने ऐसा करने से मना कर दिया। वह सेना का विरोध जताने के लिए जेल में ही बैठी रही। इसके बाद अहद की मां ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी पोस्ट किया। यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ और अहद के लिए लोगों का समर्थन बढ़ने लगा। साथ ही लोगों द्वारा सेना की खूब आलोचना की जाने लगी। इसके बाद अहद को जेल से रिहा कर दिया गया।

वेस्ट बैंक में हुआ जोरदार स्वागत

जब अहद रविवार को वेस्ट बैंक पहुंची तो उसके गांव नबी सलेह के लोगों ने उसका जोरदार स्वागत किया। वहां लोग बैनर, पोस्टर और फिलिस्तीन का झंडा लेकर उसके स्वागत के लिए खड़े थे। उसकी मां का कहना है कि बेटी की गिरफ्तारी की खबर मिलते ही उन्होंने उसकी रिहाई के लिए सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया और एक मुहिम की शुरुआत की।

बता दें कि करीब 50 सालों से वेस्ट बैंक पर इजरायल ने कब्जा किया हुआ है। अब वह लंबे समय से चले आ रहे उस विरोध का चेहरा बन चुकी है। दुनिया के कई देशों के युवा उसके समर्थन में आगे आए। इजरायली सेना द्वारा फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों पर खूब अत्याचार किए जाते हैं ताकि वह अपने विरोध को वापस ले लें। अब अहद का कहना है कि जब तक इजरायल वेस्ट बैंक से अपना कब्जा नहीं हटा लेता तब तक वह विरोध करती रहेगी। वहीं उसके पिता बसीम तमीमी का भी यह कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि अब उनकी बेटी इस आंदोलन का नेतृत्व करेगी। उन्होंने कहा कि वह आजादी में रहना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

रूस से एस-400 मिसाइल की खरीद पर अमेरिका नाराज, भारत पर लगाएगा प्रतिबंध!

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि भारत का