हथेली में मिले यह चिह्न तो नदी, तालाब और जलक्षेत्र से रहें दूर

- in धर्म

आपकी हथेली में मौजूद हर चिन्‍ह आपके भाग्‍य से जुड़ा रहता है, ये तो आप भली भांति जानते ही हैं। आज हम ऐसे ही एक चिह्न के बारे में बात करेंगे और वह है हथेली में तारे का निशान। ह‍थेली की अलग-अलग रेखाओं और पर्वतों पर तारे का निशान होने के अलग-अगल मायने हैं। हथेली में मिले यह चिह्न हैं तो नदी, तालाब और जलक्षेत्र से रहें दूर

गुरु पर्वत पर तारा

यदि आपके हाथ में गुरु पर्वत पर तारे का निशान है तो आपके सफल राजनेता या फिर सफल राजदूत बनने की संभावना प्रबल है। ऐसे जातक हर प्रकार से कामयाब और सफल जीवन जीते हैं।

शनि पर्वत पर तारा

ज्‍योतिष शास्‍त्र में शनि पर्वत पर तारे को थोड़ा अशुभ माना गया है। ऐसे जातकों को अपने जीवन में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और अक्‍सर पैसों की तंगी बनी रहती है।

सूर्य पर्वत पर तारा

यदि किसी जातक की हथेली में सूर्य पर्वत पर तारे का निशान है तो यह उसके अच्‍छे भाग्‍य की ओर इशारा करता है। सूर्य पर्वत पर तारा जातक को मान सम्‍मान के साथ ही उच्‍च पद दिलाता है। हालांकि ऐसे जातक कभी भी अपनी सफलता से संतुष्‍ट नहीं होते। ऐसे जातक अपने स्‍वार्थ को पूरा करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

चंद्र पर्वत पर तारा

ऐसे जातकों को कविता और साहित्‍य के क्षेत्र में काफी सफलता मिलती है। ऐसे लोग काफी रचनात्‍मक होते हैं। मगर ऐसे जातकों को गहरे जल, नदी, तालाब और पानी के अन्‍य स्रोतों से दूर रहने की सलाह दी जाती है। इन्हें जल क्षेत्र से खतरा रहता है।

शुक्र पर तारा देता है ऐसा फल

शुक्र पर्वत पर तारे का निशान होने पर जातक को स्‍त्री से दुख मिलने की आशंका प्रबल होती है।

जीवन रेखा पर तारा

जीवन रेखा पर तारा होने का अर्थ है कि आपको भविष्‍य में गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ता है।

हृदय रेखा पर तारा

ऐसी स्थिति में जातक को हृदय संबंधी गंभीर रोग परेशान कर सकते हैं। ऐसे लोगों को अपने खान-पान पर नियंत्रण रखना चाहिए और समय-समय पर अपना चेकअप कराते रहना चाहिए।

मस्‍तक रेखा पर तारा

मस्‍तक रेखा पर तारे का चिह्न दुर्घटना की ओर इशारा करती है। ऐसे व्‍यक्तियों को सिर में चोट लगने की आशंका अधिक रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

तुला और मीन राशिवालों की बदलने वाली है किस्मत, जीवन में इन चीजों का होगा आगमन

हमारी कुंडली में ग्रह-नक्षत्र हर वक्त अपनी चाल