2019 लोकसभा चुनाव के लिए ईवीएम में किये गए ये बड़े बदलाव, अब छेड़छाड़ करना होगा मुश्किल

2019 लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दल ही नहीं बल्कि चुनाव आयोग भी पूरी तरह से तैयार है। ईवीएम को लेकर चुनाव आयोग की भूमिका पर कई बार सवाल उठ चुके हैं। बता दें कि विपक्षी दलों ने मशीनों में छेड़छाड़ को लेकर हमेशा से ही सवाल खड़े किए हैं। लेकिन अब ईवीएम से छेड़छाड़ करना संभव नहीं होगा। अगर अब ईवीएम से छेड़छाड़ की गई तो वह बंद हो जाएगी। इसके बाद दोबारा चलाने पर टेंपर डिटेक्ट का मैसेज दिखेगा। 2019 लोकसभा चुनाव के लिए ईवीएम में किये गए ये बड़े बदलाव, अब छेड़छाड़ करना होगा मुश्किल

बता दें कि 2019 लोकसभा चुनाव के लिए चुनाव आयोग ने एम3 कैटेगरी की नई ईवीएम तैयार की है। इन मशीनों में एक नया फीचर डाला गया है। इसे टेंपरिंग डिटेक्शन का फीचर कहते हैं। अगर मशीनों से जरा सी भी छेड़छाड़ की गई तो वह बंद हो जाएगी। चुनाव आयोग ने 2400 नई ईवीएम मशीनें टेस्टिंग के लिए जालंधर भेजा गया है। जहां स्टेट पटवार स्कूल में इनकी फर्स्ट लेवल चेकिंग चल रही है। 

नई ईवीएम में गड़बड़ी की सूचना तुरंत स्क्रीन पर आएगी। और गड़बड़ी पर कंट्रोल यूनिट पर मैसेज आएगा। इममें रियाल टाइम क्लॉक की सुविधा भी है। इन मशीनों में टाइमर मैनुअली सेट नहीं होगा। एक बार ईवीएम में पोलिंग क्लोज कर दी गई तो दोबारा मतदान नहीं हो सकता। बैटरी परसेंटेज और इसे बदलने की जरूरत का मैसेज भी दिखेगा। बैटरी बचाने के लिए पावर सेविंग मोड भी है। मतदान से जुड़े डेटा का प्रिंट निकाला जा सकता है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आज का राशिफल और पंचांग: 22 सितंबर दिन शनिवार, आज इन राशि वालों के साथ होगा कुछ ऐसा…

।।आज का पञ्चाङ्ग।। आप सभी का मंगल हो