दुश्मनों के होश उड़ा देने वाली सुपरसोनिक मिसाइल ‘ब्रह्मोस’ का सफलतापूर्वक परीक्षण

सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ‘ब्रह्मोस’ का आज सुबह राजस्थान की पोखरण टेस्ट रेंज से सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। न्यूज एजेंसी एएनआई से मिली जानकारी के मुताबिक मिसाइल ने तीन बार उड़ान भरी जिसकी रेंज 290 किलोमीटर थी। 

 

दुश्मनों के होश उड़ा देने वाली सुपरसोनिक मिसाइल 'ब्रह्मोस' का सफलतापूर्वक परीक्षणमिसाइल की खासियत यह  है कि इंडो-रसियन ज्वाइंट वेंचर के साथ ब्रह्मोस मिसाइल की रेंज को 400 किलोमीटर तक बढ़ाया जा सकता है।  ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल को 40 सुखोई लड़ाकू विमानों पर एकीकृत करने के लिए काम चल रहा है, उम्मीद है कि इस क्षेत्र में सुरक्षा गतिशीलता विकसित होने के बाद भारतीय वायु सेना की महत्वपूर्ण आवश्यकताओं को पूरा किया जा सकेगा। 

आपको बता दें कि ब्रह्मोस को इंडियन नेवी और सेना में 2006 में शामिल किया गया था लेकिन ब्रह्मोस का यह संस्करण ज्यादा विकसित है। SU-30 और ब्रह्मोस की जोड़ी से भारतीय वायु सेना मिनटों में अपने लक्ष्य को दूर तक भेद सकेगी। 

ब्रह्मोस मिसाइल को रूस के साथ मिलकर विकसित किया गया है और इसका नाम भारत की ब्रह्मपुत्र और रूस की मस्कवा नदी के नाम पर रखा गया है।  संभावना है कि यह प्रोजेक्ट 2020 तक पूरा हो जाएगा। 

You may also like

ट्रिपल तलाक पर अध्यादेश लाएगी केंद्र सरकार, कैबिनेट ने दी मंजूरी

नई दिल्ली : देश में तीन तलाक के बढ़ते हुए