इन 5 एंड्रॉयड एप्स से ऐसे करें घर बैठे INCOME

नई दिल्ली। घर बैठे हर कोई पैसा कमाना चाहता है। लेकिन सवाल यह उठता है कि बिना घर से बाहर निकले सिर्फ घर बैठकर पैसा कैसे कमाया जाए। इसका जवाब हम आपको इस पोस्ट में देने जा रहे हैं। आपको बता दें कि गूगल प्ले स्टोर पर कई एप्स ऐसी हैं जिनकी मदद से आप घर बैठे कमाई कर सकते हैं। तो चलिए आपको इन एप्स के बारे में विस्तार से बता दें।इन 5 एंड्रॉयड एप्स से ऐसे करें घर बैठे INCOME

Loading...

Keettoo:

इस एप को गूगल प्ले स्टोर से फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप पर अलग-अलग ब्रैंड्स के लिए विज्ञापन प्लेटफॉर्म मौजूद हैं। यह एप आपको विज्ञापन देखने के लिए नोटिफिकेशन भेजता है। प्रत्येक विज्ञापन देखने के बाद आपके Keettoo अकाउंट में 1 रुपया क्रेडिट कर दिया जाता है। इस एप से पेटीएम और मोबिक्विक लिंक्ड होते हैं। ऐसे में आप अपनी कमाई हुई राशि रीडिम भी कर सकते हैं।

Foap:

इस एप के जरिए यूजर्स फोन से कैप्चर की गई तस्वीरों को बेचकर पैसे कमा सकते हैं। अगर कोई व्यक्ति आपकी तस्वीर खरीदता है तो आपको लगभग 300 से 350 मिल सकते हैं। इन पैसों को आप Paypal अकाउंट ट्रांसफर में कर सकते हैं।

Slidejoy:

यह भी फ्री एप है। एप डाउनलोड करने के बाद आपको लॉकस्क्रीन थीम को चुनना होता है। जब भी आप अपने फोन को अनलॉक करने के लिए स्वाइप करेंगे तो आपकी स्क्रीन पर विज्ञापन आएगा। इसे ऐसे ही छोड़ दें। विज्ञापन देखने के लिए यह एप करीब 66 रुपये देती है। आप अपने जमा किए गए पैसे को हर 15 दिनों में Paypal खाते में नकदी के लिए रिडीम कर सकते हैं।

mCent:

इस एप से कमाए गए पैसों को प्रीपेड नंबर रिचार्ज कराने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। एप को इंस्टॉल करने के बाद इसमें कुछ टास्क दिए गए होते हैं जिससे आप पैसे कमा सकते हैं। साथ ही अगर आप इस एप को अपने दोस्त को रेफर करते हैं तो आपको और आपके दोस्त को पेटीएम कैश भी मिल सकता है।

Tengi:

यह एक चैट एप है। इस एप में पैसे नहीं दिए जाते हैं। बल्कि दोस्तों को इनवाइट या उनसे चैट कर टिकट मिलते हैं। इसके बाद एक साप्ताहिक ड्रॉ होता है जिसमें इन टिकट्स का इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आप जीत जाते हैं तो आप अपने बैंक खाते में ट्रांसफर किए गए पैसे या उपहार वाउचर के रूप में चुन सकते हैं।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com