भारतीय कपल्स की ये 10 गलतियां, बताती हैं कि हम भारतीय

- in जीवनशैली

प्यार में पड़ना हर किसी की पहली चाहत होती है। आलम यह है कि स्कूल के दिनों से ही इश्क की खुमारी रोमांस के गलियारों से हमारे दिल और दिमाग पर दस्तक देने लग जाती है। कॉलेज तक आते-आते तो मामला बहुत ही ज्यादा बेकाबू हो जाता है। आंखें मिली नहीं कि मोहब्बत परवान चढ़ने लगती है। 

मगर दोस्तों बात केवल इतनी ही नहीं होती। दरअसल प्यार में पड़ जाना तो पहले कदम बढ़ा देने भर जैसा होता है। असली सफर तो शुरू होता है इसके बाद। नहीं समझे। अरे मतलब कि प्यार की जो प्यारी-प्यारी बातें देखकर-सुनकर आप इसके चक्कर में पड़ जाते हैं ना, उसकी असली चुनौतियां तो थोड़े समय बाद शुरू होती है। 

अब ऐसा होते ही कपल्स में लड़ाई-झगड़े होने लग जाते हैं। देखते ही देखते लव बर्ड्स अपने रास्ते तक अलग कर लेते हैं। आपके साथ ऐसा कुछ न हो इसलिए तो हम आपके लिए लेकर आए हैं यह स्टोरी। जरा ध्यान से पढ़िएगा। मामला आपके दिल का है। 

साथ मिलकर करें काम

जब आप अपनी लाइफ में साथ-साथ आगे बढ़ने का मन बना ही चुके हैं तो सबसे पहले आपको सभी बातों की प्राथमिकता तय करना होगी। फिर बात खर्चों की हो या जरूरतों की। साथ में मिलकर किए गए प्रयासों से बन जाएगी आपकी बात। 

स्मोकिंग से भी हो सकती है भूलने की बीमारी, ऐसे पाएं इस बीमारी से छुटकारा

फैमिली प्लानिंग  

दोस्त, बच्चे तो आपकी दुनिया में आने वाली दूसरी सबसे खूबसूरत बात होती है। अरे पहली तो आपकी प्रेमिका होती ही है। ऐसे में बच्चे केवल इसलिए कर लेना कि शर्मा जी या वर्मा जी के यहां हो गया तो हम भी कर लें। यह आइडिया ठीक नहीं है। आप जब मानसिक-शारीरिक और आर्थिक रूप से तैयार हो जाए तब अगला कदम बढ़ाए।

एक-दूसरे को जानिए

 जनाब, कब तक सोशल मीडिया पर होने वाली बातचीत में अपना वक्त ज़ाया करेंगे आप। मेरी मानिए तो आमने-सामने बैठकर इत्मिनान से लंबी-लंबी बातचीत कीजिए। इसी बहाने एक-दूसरे की लाइफ को बेहतर ढंग से जान पाएंगे आप।

छुपाने वाली बात न हो

 भाई, पैसा तो चीज ही ऐसी है जो बड़े-बड़े लोगों में विवाद पैदा कर देता है। ऐसे में आपके बीच ‘मेरा पैसा’ और ‘तुम्हारा पैसा’ वाली बात न आए तो बेहतर है। ज्यादा अच्छा होगा यदि आपके बीच ‘हमारा पैसा’ वाला भाव हो। 

गंभीरता से लीजिए 

अक्सर रिश्तों में ऐसा होता है जब कुछ ही समय में हम अपने करीबियों को नजरअंदाज करना शुरू कर देते हैं। कई बार तो यह जाने-अनजाने ही हो जाता है। इससे बिल्कुल बचिए। छोटी-छोटी बातों में ही बड़ी-बड़ी खुशी छिपी होती है। जरूरत केवल उन पर ध्यान देने की है। 

पूरा समय लीजिए

पार्टी या किसी इवेंट में लोगों के बीच यह जताने की कोशिश मत कीजिए कि आपका रिश्ता कितना मजबूत है। वो तो समय के साथ अपने आप दिखने लगेगा। फिलहाल अपने रिश्ते को समय दीजिए। इसे बेहतर बनाने के लिए समय लीजिए। 

 
 
 
 
=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जानिए रात में क्यों नहीं काटने चाहिए आपको नाखून?

नहीं काटने चाहिए रात में नाखून ये परंपरा