अगले दो दिनों तक नहीं मिलेगी ठंड से राहत, घने कोहरे की चादर में लिपटे कई राज्य…

देश की राजधानी दिल्ली से लेकर समस्त उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड जारी है। भारतीय मौसम विभाग की माने तो अगले दो दिनों तक ठंड से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। मौसम विभाग का कहना है कि आज तड़के सुबह उत्तरी राजस्थान, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, चंड़ीगढ़, उत्तर प्रदेश और बिहार में घना कोहरा दर्ज किया गया है।

इसके अलावा पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा और असम में भी सुबह साढ़े पांच बजे घना कोहरा देखा गया। मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि उत्तर भारत में और ठंड पड़ने के आसार है। मौसम विभाग ने बताया कि शुष्क मौसम और उत्तर पश्चिम हवाओं की वजह से देश के उत्तर पश्चिम हिस्सों के ज्यादातर इलाकों में अगले तीन-चार दिन तक न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना है।

अगले कुछ दिनों तक शीतलहर की चेतावनी
मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों के लिए शीतलहर चलने की भी चेतावनी जारी की है। भारी बर्फवारी के बाद श्रीनगर में पारा माइनस 7.8 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। यही वजह है कि यहां डल झील एकदम जम गई है। दिल्ली के पालम इलाके में गुरुवार सुबह 6.2 डिग्री और सफदरजंग में दो डिग्री तापमान दर्ज किया गया।

जनवरी के बाद यह पहली बार है कि पारा इतनी नीचे गिरा हो। मौसम विभाग की माने तो अगले दो-तीन दिनों तक ऐसा ही मौसम बना रहने वाला है।

उत्तर प्रदेश में शीतलहर का ऑरेंज अलर्ट जारी
मौसम विभाग ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश से लेकर तराई इलाकों तक शीतलहर का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। अगले 24 घंटों में सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, मेरठ, अलीगढ़, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर, बहराइच, श्रावस्ती हरदोई, गोण्डा, बस्ती, संतकबीरनगर और गोरखपुर मे शीतलहर के कारण तापमान और गिर सकता है। इसके अलावा बाराबंकी औऱ कानपुर में घने कोहरे का अलर्ट जारी किया है।

पंजाब में अगले चार दिन कड़ाके की ठंड
दिन के पारे में चार डिग्री गिरावट के साथ इस बार लोहड़ी पर लोगों को पिछले साल के मुकाबले ज्यादा ठंड का अनुभव करना पड़ा। मौसम विभाग ने अगले पांच दिन कड़ाके की सर्दी पड़ने का अनुमान जताया है। दिन का पारा औसतन चार-पांच डिग्री कम चल रहा है।

 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button