7-11 जून महाराष्ट्र के इन 6 जिलों में हो सकती है भारी बारिश, हाई अलर्ट हुआ जारी

मौसम विभाग ने 7 जून से 11 जून तक मुंबई समैत महाराष्ट्र के छह जिलों में भारी बारिश की चेतावनी देते हुए लोगों से अपील की है कि वो इस दौरान घर से बाहर ना निकलें. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के लगभग 75 फीसदी से ज्यादा मौसम केंद्रों ने दक्षिण कोकण और गोवा क्षेत्र में भारी बारिश का अनुमान लगाया है. आईएमडी के पश्चिमी क्षेत्र के डिप्टी डायरेक्टर जनरल के एस होसालिकर ने कहा कि मौसम प्रणाली धीरे-धीरे मुंबई सहित उत्तर कोकण से आगे बढ़ेगी और यह 11 जून तक जारी रहेगी.7-11 जून महाराष्ट्र के इन 6 जिलों में हो सकती है भारी बारिश, हाई अलर्ट हुआ जारी

IMD ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा ‘घर से ना निकलें’

मुंबई में भारी बारिश का अनुमान लगाते हुए मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी की है. आईएमडी द्वारा जारी की गई एडवाइजरी के मुताबिक ‘जोरदार मानसून की स्थिति सक्रिय होने की संभावना हैं. इससे पश्चिमी तट पर भारी बारिश हो सकती है, खासकर 10 जून और 11 जून के बीच.

साथ ही एडवाइजरी में लिखा है कि ‘जोरदार बारिश के पूर्वानुमान के मद्देनजर लोगों को सलाह दी जाती है कि वे इस दौरान जितना ज्यादा हो सके बाहर न निकलें और मुंबई के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र से मौसम की अपडेट भी लेते रहें.’ इसी के साथ मौसम विभाग का कहना है कि मध्य महाराष्ट्र के मराठवाड़ा और विदर्भ के भी कई हिस्सों में गुरुवार और शुक्रवार को बारिश हो सकती है.

9 या 10 जून को मुंबई पहुंच सकता है मॉनसून

आईएमडी के अधिकारियों ने कहा कि दक्षिण पश्चिमी मॉनसून अभी कर्नाटक तक पहुंच गया है और ये तेजी से कोंकण तट की ओर बढ़ रहा है. हालांकि होसालिकर का कहना है ‘यह अभी तक साफ नहीं हुआ है कि मुंबई में मॉनसून कब तक पहुंचेगा, लेकिन इसके 9 या 10 जून तक यहां पहुंचने की संभावनाए हैं.’

बुधवार तक शहर में पहले ही प्री मॉनसून की बारिश से कई इलाकों में पानी भर गया है. इसके बाद अब मौसम विभाग ने भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. बता दें कि पिछले साल भी मौसम विभाग ने 29 अगस्त और 19 सितंबर को ऐसी ही चेतावनी दी थी, जिसके बाद मुंबई में 24 घंटे के भीतर 300 एमएम बारिश हुई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच