PM मोदी का रवांडा को 200 गायें देने के पीछे कहीं ये वजह तो नही…

- in राष्ट्रीय
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा पर हैं। नरेंद्र मोदी रवांडा जाने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं। पीएम मोदी अपनी इस यात्रा में रवांडा को 200 गायें देंगे। पूरी दुनिया में भारत सरकार के इस फैसले की चर्चा हो रही है। प्रधानमंत्री मोदी रवांडा के रवेरू मॉडल गांव का दौरा करेंगे जहां वह रवांडा की ‘गिरिंका’ योजना के लिए इन गायों को देंगे।
दरअसल इस फैसले के पीछे रवांडा सरकार की ओर से चलाई जा रही है एक योजना है जिसका नाम ‘गिरिंका’ है। इस योजना के तहत सरकार वहां पर कुपोषण दूर करने के लिये 3.50 लाख गांवों को गाय देगी और फिर उसके पैदा हुई एक बछिया को वह अपने पड़ोसी को देगा। इस योजना का मकसद इन गायों के दूध पीकर बच्चों का कुपोषण दूर किया जायेगा साथ ही दूग्ध उद्योग को भी बढ़ावा दिया जायेगा। बता दें कि ‘गिरिंका’ गरीबी उन्मूलन के लिए रंवाडा की सरकार का एक अहम कार्यक्रम है।

रवांडा में गाय को माना जाता है समृद्धि का प्रतीक
भारत की तरह ही रवांडा में भी गाय को समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। रवांडा के प्राचीन इतिहास में गाय को मुद्रा की तरह प्रयोग में लाया जाता था। आपको बता दें कि भारत की तरह रवांडा भी कृषि प्रधान देश है। यहां की 80 फीसदी खेती से जुड़ी है। रवांडा की आबादी 1.12 करोड़ है यहां की संसद में 2 तिहाई महिला सांसद हैं। 

गिरिंका माने एक गाय रखिए 
इस शब्द का अर्थ होता है ‘एक गाय रखिए’। रवांडा की सरकार ने साल 2006 में ‘एक गरीब परिवार के लिए एक गाय’ योजना लॉन्च की थी। इस योजना के जरिए कई परिवार गरीबी के दुष्चक्र से बाहर निकले हैं। रवांडा सरकार का दावा है कि इस योजना से अबतक 3.5 लाख परिवारों को फायदा मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सड़क पर चलना हो जाएगा महंगा, पेट्रोल के बाद 14% तक चढ़ सकते हैं CNG के दाम!

सड़क पर चलने वालों के लिए बुरी खबर है.