सवर्ण महिलाओं ने अनुसूचित जाति के दूल्हे को घोड़ी से उतारा

- in राजस्थान

राजस्थान में अजमेर जिले के प्रतापपुरा गांव में अनुसूचित जाति के दूल्हे को घोड़ी से उतार दिया गया। रविवार को गांव में रमेश की बिंदोरी (घुड़चढ़ी) निकाली जा रही थी कि करीब 100 सवर्ण महिलाएं एकत्रित होकर सामने आ गई। उन्होंने पहले तो दूल्हे को घोड़ी से उतरने की चेतावनी दी, लेकिन दूल्हा नहीं माना तो मामला बढ़ गया और दोनों पक्षों में विवाद हो गया। विवाद के बीच महिलाओं ने दूल्हे को घोड़ी से उतार दिया।

सवर्ण महिलाओं ने अनुसूचित जाति के दूल्हे को घोड़ी से उतारा

विवाद की जानकारी स्थानीय पुलिस को मिली। पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे, लेकिन सवर्ण महिलाएं नहीं मानी। एक बार तो पुलिसकर्मियों और महिलाओं के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। उच्च स्तर पर पहुंची सूचना के बाद अतिरिक्त पुलिस बल गांव में पहुंचा। पुलिस अधिकारियों ने महिलाओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं मानीं। बाद में पुलिस की मौजूदगी में दूल्हे को घोड़ी पर बिठाकर बिंदोरी निकाली गई।

अजमेर कलेक्टर गौरव गोयल ने कहा कि अनुसूचित जाति के दूल्हे को घोड़ी से उतारने के मामले में प्रशासन ने तत्काल कार्रवाई की है। दूल्हे की बिंदोरी निकलवाई और अब गांव में शांति है। फिलहाल पुलिसकर्मी गांव में तैनात है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राजस्‍थान में SC वोटबैंक को रिझाने के लिए BJP ने बनाया ये बड़ा प्लान

जयपुर/नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी ने राजस्थान के विधानसभा चुनाव में चुनावी