सामने आई हैरान कर देने वाली बात, खुदाई के दौरान मिला 1000 साल पुराना मुर्गी का अंडा

इजरायल में खुदाई के दौरान 1000 साल पुराना मुर्गी का अंडा मिला है. विशेषज्ञों का दावा है कि यह दुनिया के सबसे पुराने अंडों में से एक है. हैरानी की बात ये है, कि ये अंडा सुरक्षित मिला था, जो बाद में सफाई के दौरान टूट गया. इजरायल आर्कलॉजिकल डिपार्टमेंट ने इस अविश्वसनीय खोज के बारे में एक विस्तृत पोस्ट फेसबुक पर शेयर की है.

फेसबुक पर शेयर इस पोस्ट के कैप्शन में लिखा गया है कि “एक क्रैकिंग खोज. लगभग 1000 साल पुराना मुर्गी का अंडा यवने में पुरातात्विक खुदाई के दौरान मिला.” यह अंडा 10वीं शताब्‍दी का बताया जा रहा है. मध्‍य इजरायल के यावने में शहरी विकास का प्रॉजेक्‍ट चल रहा है, जिसमें खुदाई के दौरान ये अंडा मिला है.

इजरायल आर्कलॉजिकल डिपार्टमेंट के विशेषज्ञ डॉक्‍टर ली पेरी गाल ने बताया कि ‘इजरायल और पूरी दुनिया में ये बहुत ही दुर्लभ खोज है. अंडे का छिलका खुदाई के दौरान मिलना सामान्‍य रहा है, लेकिन एक पूरा साबुत अंडा मिलना दुर्लभ है.’ उन्होंने बताया कि इससे पहले इजरायल में प्राचीन अंडे के छिलके यरुशलम के सिटी ऑफ डेविड में कई बार मिल चुके हैं.

आर्कलॉजिकल डिपार्टमेंट की ओर से बताया गया है कि ये अंडा 10वीं शताब्‍दी के एक पुरास्‍थल से बरामद किया गया है. इस पुरास्‍थल के अंदर पुरातत्‍वविदों को इस्‍लामिक काल का एक मलकुंड मिला है. इस मलकुंड के अंदर खुदाई के दौरान ये अंडा दिखाई दिया.

इजरायली पुरात्‍वविद अल्‍ला नागोरस्‍की ने कहा, ‘यह अंडा साबुत इसलिए बचा रहा क्‍योंकि यह एक खास स्थिति में एक हजार साल तक पड़ा रहा. यह अंडा इंसानी मल के बीच पड़ा रहा और इस वजह से यह सुरक्षित बचा रहा.

पुरात्‍वविद नागोरस्‍की ने कहा कि ‘आज भी अंडे बहुत लंबे समय तक सुपरमार्केट के कार्टून के अंदर सुरक्षित नहीं रह पाते हैं. यह सोचकर ही बहुत सुखद अहसास होता है कि यह अंडा एक हजार साल पुराना है.’

उन्होंने कहा कि चूंकि यह अंडा अब टूट गया है और इसके अंदर की चीजें बाहर आ गई हैं, फिर भी कुछ हिस्‍सा बचा हुआ है. इससे भविष्‍य में अंडे की और ज्‍यादा जांच की जा सकेगी

फेसबुक पर इस अंडे के बारे में पोस्ट किए जाने के बाद से एक हजार से ज्यादा लाइक मिल चुके हैं. इस पोस्ट को खूब शेयर भी किया जा रहा है. एक फेसबुक यूजर ने लिखा है कि “यह बहुत बढ़िया है” एक अन्य ने लिखा है कि “जबरदस्त खोज! साझा करने के लिए धन्यवाद!”

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine − seven =

Back to top button