कब्रिस्तान में से आ रही थी अजीब आवाजें, जब कब्र खोदा तो देख उड़ गए होश

- in ज़रा-हटके

जहाँ एक तरफ मेडिकल साइंस ने बहुत अधिक तरक्कती कर ली हैं तो वहीँ दूसरी और कई बार डॉक्टर्स की लापरवाही के चलते कई मरीजों की जान चली जाती हैं. ऐसा ही कुछ ब्राजील में रहने वाली एक महिला के साथ भी हुआ. 37 वर्षीय Rosangela Almeida नाम की महिला को उसके परिवार वालो ने चक्कर आने की वजह से अस्पताल में भर्ती करवाया था. यहाँ करीब एक हफ्ते तक उसका इलाज चला जिसके बाद डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया और डेड बॉडी परिवार वालो को सौंप दी.

Rosangela Almeida के डेथ सर्टिफिकेट के अनुसार उसकी मौत 28 जनवरी को दिल का दौरा पड़ने की वजह से हो गई थी. इसके ठीक एक दिन बाद उसके परिवार वालो ने उसकी बॉडी को पुरे रीती रिवाजो के साथ कब्रिस्तान में दफ़न कर दिया था.

इस घटना के ठीक 11 दिन बाद 9 फ़रवरी 2018 को उस कब्रिस्तान के पास रहने वाले लोगो को वहां से किसी की चीखने चिल्लाने की आवाजें सुनाई दे रही थी. वहीँ पास में रहने वाली एक निवासी Natalina Silva के अनुसार “यहाँ आस पास रहने वाले कई लोगो को कब्र के अन्दर से किसी की दबी हुई चीखने की आवाजे आ रही थी. जब मैंने उस जगह पर जाकर देखा तो अन्दर से किसी के ताबूत को ठोकने की आवाज आने लगी. पहले तो मुझे लगा कि कोई मेरे साथ मजाक कर रहा हैं. लेकिन बाद में मुझे अन्दर से दो बार किसी के रोने की आवाज सुनाई दी. हालाँकि बाद में वो आवाज अचानक रुक गई.’

आवाज सुनने के बाद वहां के लोगो ने महिला के परिवार को इसकी सुचना दी जिसके बाद वो लोग कब्र पर पहुंचे और उसे खोदना शुरू किया. लेकिन जब कब्र में में ताबूत बाहर निकाला तो बहुत देर हो चुकी थी. महिला की दम घुटने की वजह से मौत हो गई थी. ताबूत पर लोगो को स्क्रेच और खून के कई निशान मिले. इससे ये अंदाजा लगाया जा रहा हैं कि महिला ने खुद को कब्र से बाहर निकालने के लिए बहुत कोशिशें की होगी. जरा सोचिए ये महिला पिछले 11 दिनों से खुद को कब्र से बाहर निकालने की कोशिश कर रही थी लेकिन दुर्भाग्यवश वो सफल नहीं हो सकी. जब ताबूत खोला गया तो उसके अन्दर की डेड बॉडी गर्म भी थी. हालाँकि महिला के मृत हो जाने की वजह से उसे परिवार के लोगो ने फिर से दफना दिया.

जब महिला को ताबूत से बाहर निकाल अजा रहा था तो इस घटना का एक विडियो भी बनाया गया जिसे आप लोग यहाँ देख सकते हैं.

देखे विडियो:


 

ये काफी दुःख की बात हैं कि डॉक्टर्स की लापरवाही और ठीक से जांच ना करने की वजह से आज एक महिला की जान चली गई. यदि डॉक्टर्स उस समय महिला के मृत होने की जांच ठीक से करते तो आज वो अपने परिवार वालो साथ होती. हालाँकि महिला के परिवार वालो का कहना हैं कि वो डॉक्टर्स या अस्पताल पर कोई केस नहीं करना चाहते हैं. वो इसे एक मानवीय गलती मान रहे हैं और इसका कोई बड़ा मुद्दा नहीं बनाना चाहते हैं.

loading...

You may also like

Video: समलैंगिक महिलाओं के रिश्ते की खूबसूरत कहानी, जिसे देखकर हो जायेंगे हैरान

समय के साथ प्यार की परिभाषा भी बदल गयी