नोएडा में सिपाही ने SSP पर तानी Ak-47

- in दिल्ली, राज्य

नोएडा। दिल्ली से सटे नोएडा में भंगेल के पास बैरिकेड लगाकर हो रही चेकिंग में गाड़ी रोकने के दौरान एक पुलिस कांस्टेबल ने गाड़ी की तरफ एके-47 तान दी। हालांकि, उसे नहीं मालूम था कि गाड़ी में एसएसपी साहब हैं। वहीं, चेकिंग में सजग मिलने पर एसएसपी ने कांस्टेबल की तारीफ की।नोएडा में सिपाही ने SSP पर तानी Ak-47

दरअसल, उगाही की शिकायतों की जांच के लिए एसएसपी डॉ. अजयपाल शर्मा शुक्रवार को आधी रात नोएडा-ग्रेटर नोएडा की सड़कों पर पहले ऑटो और फिर फॉ‌र्च्यूनर से निकले थे। रात करीब एक बजे से सुबह करीब साढ़े तीन बजे तक एसएसपी सड़कों पर घूमते रहे। इस दौरान एसएसपी ने फॉ‌र्च्यूनर गाड़ी में संदिग्ध बदमाशों के घूमने की बात कहकर उसका नंबर फ्लैश किया और फिर उन्हें पकड़ने के लिए कहा। करीब ढाई घंटे तक सड़क पर चलने के दौरान जिले की अलग-अलग कोतवाली क्षेत्र में तीन पीसीआर सवार पुलिसकर्मियों ने उस गाड़ी का पीछा किया, लेकिन उसे पकड़ नहीं सकी।

उधर, इस चेकिंग अभियान के दौरान एक्सप्रेस-वे पर तैनात एक पीआरवी के सामने से एसएसपी कई बार निकले, लेकिन नंबर फ्लैश होने के बाद भी उस पीआरवी पर तैनात दारोगा ने चेकिंग के लिए नहीं रोका। इस वजह से एसएसपी ने उस पर तैनात दारोगा राजवीर को निलंबित कर दिया है। वहीं एक्सप्रेस-वे क्षेत्र में जेपी कट के पास तैनात पीसीआर 23 ने गाड़ी का पीछा किया और उस पर तैनात पुलिसकर्मी चेकिंग को लेकर सजग दिखे। जिस पर एसएसपी ने पांच सौ रुपये देकर पीसीआर सवार पुलिसकर्मियों को पुरस्कृत किया।

एसएसपी के पीआरओ हंसराज भदौरिया ने बताया कि रात करीब एक बजे सबसे पहले एसएसपी परी चौक से ऑटो बुक कर निकले और एक घंटे तक चले। खासकर कर उगाही की शिकायतों की जांच के लिए निकले थे, लेकिन कहीं से इस प्रकार की शिकायत सामने नहीं आई। इसके बाद वह प्राइवेट फॉ‌र्च्यूनर से निकल कर नंबर फ्लैश कर उसमें बैठे लोगों को संदिग्ध बदमाश बताते हुए गाड़ी को रोकने के लिए कहा था। इस दौरान परी चौक, सूरजपुर के रास्ते नोएडा में फेज टू, एक्सप्रेस वे, फेज तीन, सेक्टर 39 सहित अन्य कई क्षेत्रों में भ्रमण किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों