तस्वीरें वायरल करने के बाद थारू आदिवासी समुदाय के लोगों ने कानून को अपने हाथों में लिया. बीते तीन मई को पंचायत बुलाकर लड़की के खिलाफ तुगलकी फरमान जारी किया गया. पंचायत के फरमान के बाद लड़की को खंभे से बांधकर लात-घूसों से जमकर पिटाई की गई. इतना ही नहीं लड़की के जेवर तक लूट लिए गए. साथ ही पुलिस में इसकी शिकायत करने पर उसे जान से मार देने की धमकी भी दी गई.

लड़की की पिटाई की बात सामने आते ही पुलिस ने कार्रवाई शुरू की. एसपी अरविंद गुप्ता ने बताया कि मामला सामने आते ही हमने कार्रवाई शुरू की. घटना के महज एक घंटे के अंदर ही मामले के 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. वीडियो में चार लोग लड़की को बांधकर मारते हुए दिख रहे हैं उन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है.