इन 6 राशियों की जोड़ियां होती हैं बेहद भाग्यशाली, स्वर्ग में भी नहीं रहते हैं दूर

- in धर्म

शास्त्रों में स्त्री-पुरूष के संबंधों को लेकर कई बाते वर्णित हैं और सफल वैवाहिक जीवन का मंत्र दिया गया है। वहीं ज्योतिष शास्त्र में भी दामपत्य जीवन से सम्बंधी कई बाते कहीं गई है। ज्योतिष में स्त्री और पुरूष के जन्मकुंडली के आधार पर उनके भावी जीवन की सम्भावनाए व्यक्त की जाती हैं। ज्योतिष की माने तो जहां कई सारी राशियों के बीच वैवाहिक मेल नहीं बैठता तो वहीं कुछ राशियों की जोड़ियां बेहद भाग्यशाली होती है। ज्योतिष शास्त्र में विभिन्न राशियों के बीच 6 तरह की ऐसी जोड़ियो के बारे में बताया गया है, जिनके आपसी सम्बंध हमेशा हमेशा बेहतर रहते हैं। ज्योतिष की माने तो ऐसी 6 राशियों की जोड़ियाँ स्वर्ग से बनकर आती हैं, इसलिए इनकी जोड़ी औरों से कही बेहतर साबित होती है। तो चलिए जानते हैं कौन-कौन सी राशियों का आपसी मेल बेहतर जोडियां बनाता है।

धनु और मेष दो ऐसी राशियां हैं जिनके जातको के बीच गहरा आकर्षण होता है। ऐसे में अगर ये एक-दूसरे के प्यार में पड़ जाएं तो फिर इन्हें कोई अलग नहीं कर सकता। वहीं इन दिनों के बीच आपसी समझ और तालमेल भी दूसरों से कहीं बेहतर होता है। ऐसे में जब ये दोनो साथ रहते हैं तो इन्हें किसी और के की जरूरत नहीं होती। वहीं किसी किसी मुद्दे पर बहस करनी हो, या घूमने जाना हो या फिर कोई और बात, ये हर बाते में एक-दूसरे का बेहतर साथ देते हैं।

वहीं तुला और वृश्चिक राशियों के बीच भी बेहतर संबंध देखने को मिलता है, दरअसल इनके सफल रिश्ते के पीछे का कारण ये है कि एक तरफ जहां तुला राशि के जातक ये चाहते हैं कि उनका पार्टनर हरेक चीज के लिए उन पर निर्भर रहे, वहीं वृश्चिक राशि के जातको की चाहत ये होती है कि उनका पार्टनर उनकी हर एक बात का ख्याल करे।ऐसे में ये एक दूसरो को बेहतर साथ देते हैं। इनके बीच आपसी प्रेम इतना अधिक होता है कि कई बार दूसरे लोगों को इनसे इर्ष्या भी हो जाती है।

मिथुन और कुंभ इन राशियों के बीच चुम्बकीय आकर्षण होता है। दरअसल मिथुन राशि के जातक जहां बेहद चंचल प्रकृति के होते हैं वहीं कुंभ राशि के जातक बिल्कुल शांत होते हैं, ऐसे में अनके बीच प्लस-माईनस वाला हिसाब होता है और य़े एक दूसरे के प्रति जल्दी आकर्षित होते हैं। विपरित नेचर होने के बावजूद ये दूसरे को अच्छी तरह से जानते-समझते हैं। ऐसे में इनके बीच खूब बनती है।

ज्योतिष के अनुसार तुला और कर्क इन दो राशियों के जातक एक दूसरे का पर्याय होते हैं। दरअसल ये दोनों ही राशियां ऐसी होती हैं जो कि अपने पार्टनर को खुद से बेहतर देखना चाहती हैं। ऐसे में जब ये मिलते हैं तो इनके बीच का रिश्ता इनके लिए बेहद सौभाग्यशाली साबित होता है। शादी के बाद इनके आपसी रिश्ते में और भी निखार आता है।

वृष और कन्या इन दोनो राशियों के जातक भी एक दूसरे पूरक होते हैं। इनके बीच प्रेम इतना गहरा होती है कि दूसरे लोग भी इनके जैसा मधुर संबंध पाने के लिए तरसते हैं। ज्योतिष की माने तो इन दो राशियों की जोड़ी स्वर्ग में भी बनकर आती है। वैसे ज्योतिष के अनुसार ये एकमात्र ऐसी जोड़ी है जो कि सपनों की दुनिया में ना जीकर वास्तविक और व्यावहारिकता के साथ एक-दूसरे का साथ निभाते हैं। दरअसल वृष राशि के लोग सोच में बेहद दक्ष होते हैं और उनकी यही खूबी कन्या राशि को भाती है।

मीन और कर्क राशि के जातको के बीच प्रेम सम्बंध बेहतर होते हैं, दरअसल व्यक्तिगत तौर पर ये दोनों काफी भावुक होते हैं, साथ ही इनकी सिक्स सेंस भी अच्छी होती है। ऐसे में अपनी इन समानताओं के कारण ये दूसरे के प्रति बहुत जल्दी आकर्षित होते हैं और एक-दूसरे के प्रति जुनूनी भी होते हैं। ऐसा प्यार दूसरों के बीच कम ही देखने को मिलता है ।

=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

24 मई 2018 दिन गुरुवार का राशिफल और पञ्चांग : जानें कल क्या करना शुभ है…

आप सब का मंगल हो… ।। आज का