कांग्रेस के इस विधायक की वजह से कांग्रेस को मिली हार, क्या इस बार बेगूं पर करेगी कब्जा?

- in राजनीति, राजस्थान

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले की पांच विधानसभा सीटे- चित्तौड़गढ़, कपासन, बेगूं, बड़ी सादड़ी और निम्बाहेड़ा के साथ-साथ चित्तौड़गढ़ लोकसभा पर भी बीजेपी का कब्जा है. राजपूत, गुर्जर और जाट बहुल चित्तौड़गढ़ में कभी एक दल का साम्राज्य नहीं रहा, लेकिन यह पहला मौका है जब पांचों विधानसभाओं के साथ लोकसभा पर भी बीजेपी की कब्जा है.

बेगूं विधानसभा क्षेत्र संख्या 168 की बात करें तो यह सामान्य सीट है. 2011 की जनगणना के अनुसार इस विधानसभा की आबादी 379889 है, जिसका 84.63 प्रतिशत हिस्सा ग्रामीण और 15.37 प्रतिशत हिस्सा शहरी है. वहीं कुल आबादी का 16 फीसदी अनुसूचित जाती और लगभग इतना ही अनुसूचित जनजाति हैं.

2017 की वोटर लिस्ट के मुताबिक बेगूं विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 2,51,166 है और 318 पोलिंग बूथ हैं. 2013 के विधानसभा चुनाव में इस विधानसभा में 84.8 फीसदी मतदान हुआ था. वहीं 2014 के लोकसभा चुनाव में 66.71 फीसदी मतदान हुआ था.

2013 विधानसभा चुनाव का परिणाम

साल 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी के सुरेश धाकड़ ने कांग्रेस विधायक राजेंद्र सिंह विधूड़ी को 21296 मतों से पराजित किया. बता दें कि 2013 में कांग्रेस के ही जीतेंद्र सिंह राठौर टिकट न मिलने के चलते निर्दलीय खड़े हो गए और 19837 वोट पाकर तीसरे स्थान पर रहें. बीजेपी के सुरेश धाकड़ को 84876 वोट औऱ कांग्रेस के राजेंद्र सिंह विधूड़ी को 63378 वोट मिले थें.

2008 विधानसभा चुनाव का परिणाम

साल 2008 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के राजेंद्र सिंह विधूड़ी ने बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री चुन्नी लाल धाकड़ को 643 मतों से शिकस्त दी. कांग्रेस के राजेंद्र सिंह विधूड़ी को 59106 जबकि बीजेपी के चुन्नी लाल धाकड़ को 58463 वोट मिले थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी, 87 करोड़ लागत की योजनाओं का किया लोकार्पण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को