लेजर शो बना केदारनाथ धाम का आकर्षण केंद्र, तो कांग्रेस फिर भी क्‍यों कर रही विरोध

- in उत्तराखंड, राज्य

देहरादून: द्वादश ज्योर्तिलिंगों में से एक केदारनाथ धाम में ‘आदि अनंत शिव’ लेजर शो श्रद्धालुओं के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है, वहीं इसे प्रधानमंत्री की ब्रांडिंग से जोड़कर विवाद का विषय बनाने की कोशिशें भी हो रही हैं। बदरी-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व कांग्रेस विधायक गणेश गोदियाल का दावा है कि ट्रायल के दौरान उनके विरोध के बाद ही इस शो से वह हिस्सा हटाया गया, जिसमें प्रधानमंत्री का जिक्र था। अलबत्ता, शो को तैयार करने वाले अक्षर ग्रुप के चेयरमैन मनीष शर्मा के मुताबिक शो में ऐसा कुछ भी नहीं, जिससे किसी का प्रचार हो। यह शो पूरी तरह भगवान महादेव को समर्पित है और इसके जरिये समूचे विश्व में एक सकारात्मक संदेश गया है।लेजर शो बना केदारनाथ धाम का आकर्षण केंद्र, तो कांग्रेस फिर भी क्‍यों कर रही विरोध

…ट्रायल के दिन ही विरोध

राष्ट्रीय अंत्योदय संघ के सहयोग से अक्षर गु्रप कंपनीज ने अपनी तरह का यह स्टायलाइज लेजर शो तैयार किया है। बाबा केदार के कपाट खुलने से पूर्व 28 अप्रैल को केदारनाथ में इस शो का ट्रॉयल किया गया। जब यह शो चल रहा था, तभी वहां पहुंचे बदरी-केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक गणेश गोदियाल और कांग्रेस विधायक मनोज रावत ने विरोध किया। उनका कहना था कि इस शो में राजनीतिक व्यक्तियों का विज्ञापन भी है। यह धार्मिक स्थल है और वे शो के जरिये सियासत नहीं होने देंगे। इसके बाद उन्होंने पूरा शो देखा, लेकिन इसमें ऐसा कोई अंश नजर नहीं आया। अलबत्ता, इसके बाद उन्होंने शो में कुछ त्रुटियां होने की बात कही, जिस पर आयोजकों ने इन्हें तुरंत दूर कराने का भरोसा दिलाया।

कहीं यह तो नहीं थी वजह

दरअसल, ट्रायल लेजर शो का जिस स्थान से संचालन किया जा रहा था, उसके पास एक होर्डिंग भी लगा था, जिसमें प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के फोटो लगे थे। माना जा रहा कि इसी के चलते कांग्रेस विधायकों का पारा चढ़ा। चेयरमैन (अक्षर ग्रुप) मनीष शर्मा का कहना है कि 29 अप्रैल को कपाट खुलने के बाद से केदारनाथ में रोजाना तीन शो चल रहे हैं, जिन्हें श्रद्धालुओं का जबर्दस्त रिस्पांस मिल रहा है। इसके जरिये लोग केदारनाथ का महात्म्य, मंदिर की स्थापना आदि के बारे में जान रहे हैं। यदि सरकार चाहेगी तो शो को पूरे यात्रा सीजन के दौरान जारी रखा जा सकता है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी (बदरी-केदार मंदिर समिति) बीडी सिंह का कहना है कि लेजर शो के बारे में मंदिर समिति ने नहीं, बल्कि सरकार ने अनुमति दी है। इस में क्या है, क्या नहीं, मुझे इसकी जानकारी नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

LJP MP ने CM नीतीश को ले कही ये बड़ी बात

पटना। राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में भले ही ‘ऑल