Home > राज्य > मध्यप्रदेश > इंदौर हादसा : होटल में बदलाव किए जा रहा था मालिक, पानी से हुई कमजोर

इंदौर हादसा : होटल में बदलाव किए जा रहा था मालिक, पानी से हुई कमजोर

इंदौर। नगर निगम ने सरवटे बस स्टैंड क्षेत्र में हुए होटल हादसे की जांच शुरू कर दी है। मंगलवार तक 10 लोगों के बयान दर्ज हुए। इसमें उन्होंने घटना और बिल्डिंग को लेकर महत्वपूर्ण बातें बताईं। किसी ने कहा होटल मालिक बिल्डिंग में लगातार बदलाव कर रहा था तो कोई बोला होटल गर्डर-फर्शी से बनी हुई थी। यह भवन कई बार बिक चुका था।इंदौर हादसा : होटल में बदलाव किए जा रहा था मालिक, पानी से हुई कमजोर

मामले में लोगों के बयान लेने की प्रक्रिया कुछ दिन और चलेगी। निगमायुक्त मनीष सिंह ने रविवार को जांच के सात बिंदु तय कर जांच समिति को सात दिन में रिपोर्ट देने के निर्देश दिए थे। इसी कड़ी में लिए गए बयान में एक व्यक्ति ने बताया कि धराशायी बिल्डिंग के पास के प्लॉट पर मालिकों ने करीब तीन साल पहले अपना निर्माण तुड़वा लिया था और वहां सात-आठ फीट गहरा बड़ा गड्ढा खुदवा रखा था।

संभवतः उसमें भरे पानी के कारण पास की होटल बिल्डिंग कमजोर हो गई। पास के निर्माण के कारण होटल की एक दीवार पर प्लास्टर नहीं हो सका था। एक अन्य ने बताया कि होटल बिल्डिंग की सीढ़ी के नीचे पीछे की ओर पानी का टैंक बना था। संभवतः उसकी सीलन बिल्डिंग में आ गई। कुछ लोगों ने कहा कि होटल के नीचे दुकानों में भी सीलन देखी थी। एमएस होटल के मालिक ने करीब साढ़े तीन साल पहले छत कवर कर एक फ्लोर बना लिया था।

आज आम सूचना जारी करेगा निगम

नगर निगम मंगलवार को आम सूचना जारी कर लोगों से आग्रह करेगा कि जो लोग घटना या अन्य जुड़ी जानकारी बताना चाहते हैं, वे अपर आयुक्त सिंह से संपर्क कर अपने बयान दर्ज करा सकते हैं। जांच शुरू होने के बाद अपर आयुक्त ने घटनास्थल के आसपास मौजूद संस्थानों, होटल और विभिन्ना कर्मचारियों से संपर्क किया। तब कहीं 10 लोग बयान दर्ज कराने के लिए तैयार हुए।

Loading...

Check Also

मंत्री गोविंद सिंह का तीखा प्रहार, RSS और BJP ने जो व्यवस्था पनपायी थी उसी का है ये नतीजा

मंत्री गोविंद सिंह का तीखा प्रहार, RSS और BJP ने जो व्यवस्था पनपायी थी उसी का है ये नतीजा

कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह सिंह ने बयान दिया है कि मध्यप्रदेश में …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com