बच्ची को चॉकलेट दिलाने ले जा रहा था, अपहरण के शक में पिटाई, तुरंत हुई मौत

- in अपराध

एक युवक को दो वर्षीय मासूम को चॉकलेट दिलाने की कीमत मौत के रुप में अदा करनी पड़ी। मामला जयपुर के विश्वकर्मा इंडस्ट्रीयल क्षेत्र का है। यहां एक फैक्ट्री में काम करने वाले मोहम्मद फैजल सिद्दकी (25) तीन फरवरी को अपने दोस्त की दो वर्षीय बेटी को चॉकलेट दिलाने के लिए बाजार ले गया।

बच्ची को चॉकलेट दिलाने ले जा रहा था, अपहरण के शक में पिटाई, तुरंत हुई मौतलेकिन कुछ लोगों को शक हुआ कि सिद्दकी बच्ची का किडनैप कर ले जा रहा है। इसी शक के आधार पर वहां कुछ लोगों ने सिद्दकी को पकड़कर बिजली के पोल से बांध दिया। इसके बाद मौके पर जमा लोगों ने सिद्दकी जमकर पिटाई की और वीडियो बना लिया।

वहीं जब दो वर्षीय मासूम असलम अंसारी को किसी ने फोन पर सूचना दी कि उनकी बच्ची गौतम विहार रोड पर खड़ी है। इसके बाद वे मौके पर पहुंचे तो लोग सिद्दकी की पिटाई कर रहे थे और बच्ची सड़क किनारे खड़ी थी। इसके बाद अंसारी ने पुलिस को फोन किया और सिद्दकी को तुरंत एसएमएस अस्पताल ले जाया गया।

जहां बुधवार को घटना के 16 दिन बाद मोहम्मद फैजल सिद्दकी ने दम तोड़ दिया। हालांकि पुलिस ने इस मामले में अगले दिन ही निशांत मोदी और महेन्द्र काला नाम के दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। इन लोगों को आईपीसी की धारा 308 में गिरफ्तार किया है। कानपुर के सुल्तानगंज के रहने वाले मोहम्मद सिद्दकी के भाई ने एसएमएस के चिकित्सकों पर भी सही तरीके से इलाज नहीं करने का आरोप लगाया है।

वहीं दूसरी और मृतक मोहम्मद सिद्दकी के खिलाफ भी एक महिला ने मामला दर्ज कराया है। महिला कहना है कि तीन फरवरी को उसने मोहम्मद सिद्दकी को बच्ची के गलत हरकत करता देख उसे रोकने का प्रयास किया था। लेकिन सिद्दकी ने महिला के साथ मारपीट की। इसके बाद ही उस महिला ने शोर मचाकर भीड़ को एकत्र किया था।

You may also like

प्रेमिका को फंसाने के लिए युवक ने ले ली दोस्त की जान, जाने पूरा मामला

यूपी के आजमगढ़ में एक युवक ने अपनी