बड़ी खबर: मध्यप्रदेश IAS एसोसिएशन ने “AAP” विधायकों के खिलाफ किया संकल्प पारित

मध्यप्रदेश आईएएस अधिकारी एसोसिएशन ने आम आदमी पार्टी विधायक के खिलाफ एक संकल्प पारित किया है। एसोसिएशन ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ जिस तरह से आम आदमी पार्टी के विधायकों ने बदतमीजी की है वह ठीक नहीं है। अंशु प्रकाश एक आईएएस अधाकारी हैं।

बड़ी खबर: मध्यप्रदेश IAS एसोसिएशन ने "AAP" विधायकों के खिलाफ किया संकल्प पारितबता दें कि मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित हमले की पुष्टि बुधवार को मेडिकल बोर्ड ने भी की है। दिल्ली के अरुणा आसफ अली अस्पताल के मेडिकल बोर्ड ने रिपोर्ट जारी करते हुए बताया कि अंशु प्रकाश के होंठ पर कटने का निशान है और उनके गालों पर भी सूजन पाई गई। इतना ही नहीं चेहरे पर भी कई जगह चोट के निशान हैं। मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर हमले की ओर उनकी मेडिकल रिपोर्ट इशारा कर रही है। हमले के बाद मेडिकल जांच की गई थी।

अरुणा आसफ अली अस्पताल में उनका मेडिकल कराया गया था। अस्पताल के मुताबिक, मुख्य सचिव प्रकाश ने मंगलवार रात 9 बजकर 5 मिनट पर चिकित्सीय जांच करवाई। इस दौरान उन्होंने डॉक्टरों को बताया कि 19 फरवरी की रात करीब 12 बजे के बाद मुख्यमंत्री आवास पर उनके साथ मारपीट की घटना हुई, जिसके चलते उन्हें गर्दन में दर्द, आंख और कानों के पीछे तेज दर्द की शिकायत है। इस पर डॉक्टरों ने उन्हें पहले दर्द निवारक दवा और इंजेक्शन लगाया। इसके बाद उनकी चिकित्सीय जांच शुरू की। होंठ पर निशान ऐसा है, मानों किसी चीज से कटा हुआ है।

हालांकि रिपोर्ट में 56 वर्षीय अंशु प्रकाश की चोटों को सामान्य भी बताया है। डॉक्टरों के अनुसार, चोट का निशान करीब एक सेंटीमीटर गहरा है। अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जीपी कौशल ने रिपोर्ट की पुष्टि भी की है।

हालांकि मेडिकल रिपोर्ट को लेकर सवाल उठ रहा है कि सीसीटीवी रिपोर्ट में 11 बजकर 30 मिनट पर घटना दिख रही है, जबकि मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में घटना का समय रात साढ़े 12 बजे का बताया है। इस पर अस्पताल ने टिप्पणी नहीं की।

मुख्य सचिव की शिकायत पर दो विधायकों की गिरफ्तारी के बाद बुधवार को आम आदमी पार्टी ने भी पलटवार की रणनीति अपनाई। एक तरफ जहां खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन उप राज्यपाल के मिलने पहुंचे, वहीं उनके शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं होता देखकर घटना के करीब 28 घंटे बाद उनके तीन कर्मचारी लोक नायक अस्पताल में एमएलसी करवाने पहुंचे।

उधर, बुधवार शाम करीब चार बजे मंत्री इमरान हुसैन के तीन कर्मचारी हिमांशु, शाहील अरोड़ा और अथम प्रकाश लोक नायक अस्पताल के इमरजेंसी में पहुंचे। यहां हिमांशु ने बांए कंधे में दर्द की शिकायत की। उसके अलावा शेष देने भी मंगलवार को हुई मारपीट में लगी चोट की शिकायत की। जानकारी के अनुसार डॉक्टरों को तीनों के चोट में कुछ गंभीर नहीं दिखा।

जिसके बाद उन्हें प्राथमिक इलाज देने के बाद घर जाने की सलाह दी गई। बता दें कि मंगलवार को दिल्ली डायलॉग कमीशन के चेयरमैन आशीष खेतान, मंत्री इमरान हुसैन और उनके कर्मचारियों से मारपीट हुई थी।

Loading...

Check Also

रणजी मुकाबल: मणिपुर की पूरी टीम 185 रन पर आउट...

रणजी मुकाबल: मणिपुर की पूरी टीम 185 रन पर आउट…

रणजी मुकाबले के तीसरे दिन मणिपुर ने 143 रन के बाद खेलना शुरू किया। लगातार …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com