इंग्लैंड टीम को लग सकता है बड़ा झटका, इस खिलाड़ी के हाथ में लगी चोट

नई दिल्ली. इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट सीरीज का आगाज 2 जून से होने जा रहा है, लेकिन इससे पहले इंग्लिश टीम को एक झटका लग गया है. दरअसल, सोमवार को प्रैक्टिस के दौरान इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) के दाहिने हाथ में चोट लग गई है. दरअसल, प्रैक्टिस के दौरान इंग्लैंड टीम के मुख्य कोच क्रिस सिल्वरवुड थ्रो डाउन करवा रहे थे, जिस दौरन रूट को यह चोट लगी. बुधवार से लॉर्ड्स में केन विलियमसन की न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट से 48 घंटे पहले इंग्लैंड के लिए यह स्थिति मुश्किल हो सकती है.

चोट लगने के तुरंत बाद जो रूट ने मैदान छोड़ दिया और इलाज के लिए सहायक कोच पॉल कॉलिंगवुड के साथ चले गए. हालांकि वह बाद में मैदान पर लौटे, लेकिन किसी भी अभ्यास में शामिल नहीं हुए. बाद में यह पता चला कि वह “डॉग थ्रोअर” प्रशिक्षण उपकरण का उपयोग करके फेंकी गई गेंद से उन्हें चोट लगी थी. इस प्रहार से उनके दाहिने हाथ में चोट लग गई, जिसे वह बल्लेबाजी के लिए इस्तेमाल करते हैं. बाद में इंग्लैंड टीम प्रबंधन ने खुलासा किया कि जो रूट पहले टेस्ट से पहले मंगलवार के प्रमुख अभ्यास सत्र में एहतियात के रूप में शामिल नहीं होंगे. हालांकि, यह संभावना नहीं है कि वह पहले मैच को नहीं खेल पाएंगे. यदि ऐसा होता है तो सैम बिलिंग्स न्यूजीलैंड के खिलाफ इंग्लैंड टीम का नेतृत्व करेंगे.

बेन स्टोक्स, जॉनी बेयरस्टो, जेसन रॉय सहित शीर्ष सितारों के साथ आईपीएल 2021 से लौटे जो रूट टेस्ट सीरीज में टीम के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज हैं. वह 2021 में दो दोहरे शतक और 186 के स्कोर के साथ टेस्ट क्रिकेट में दुनिया के टॉप रन-स्कोरर हैं. उन्होंने 2021 में 12 पारियों में 66.16 की औसत से 794 रन बनाए हैं. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट का चेन्नई में पहले टेस्ट में भारत के खिलाफ शानदार दोहरा शतक एक मेहमान बल्लेबाज का एकमात्र शानदार प्रदर्शन था. चेन्नई टेस्ट से कुछ दिन पहले श्रीलंका के खिलाफ 186 रनों की पारी खेलने के बाद रूट का यह दोहरा शतक आया था.

जो रूट ने गेंद से भी भारतीय बल्लेबाजों को चौंकाया था. अहमदाबाद में खेले गए टेस्ट में उन्होंने 8 रन देकर 5 विकेट हासिल किए थे. 2021 में टेस्ट में उनसे ज्यादा रन किसी और बल्लेबाज ने नहीं बनाए लेकिन फिर भी उनका कहना है कि उन्हें अभी और ऊपर जाना है. डेली मेल को दिए इंटरव्यू में जो रूट ने कहा, ”मुझे लगता है कि मैं पिछले एक-एक साल में काफी बड़ा हो गया हूं, और अब चीजों को अच्छी तरह से संभाल लेता हूं. भारत में जिस तरीके से हमने हार का सामना किया, उससे मैं निश्चित रूप से निराश था. लेकिन मुझे लगता है कि हम एक टेस्ट टीम के रूप में बड़ी प्रगति कर रहे हैं. हम खेलों के एक रोमांचक चरण में आ रहे हैं, जिसमें हमें वास्तव में बढ़ता हुआ देखा जा सकता है.”

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + eleven =

Back to top button