Home > अपराध > दिनदहाड़े महिला टीचर से कातिल ने पहले पूछा नाम और फिर दाग दी सिर में गोली

दिनदहाड़े महिला टीचर से कातिल ने पहले पूछा नाम और फिर दाग दी सिर में गोली

भारत में क्राइम रेट दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा हैं. यहाँ लोग छोटी मोटी बातों में भी हत्या जैसा बड़ा अपराध कर बैठते हैं. हालात इतने ज्यादा खराब हैं कि अब तो ये वारदातें दिन दहाड़े सावर्जनिक स्थलों पर भी होने लगी हैं. दिन दहाड़े हत्या का ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला मध्य प्रदेश के खंडवा के हरसूद से आ रहा हैं. यहाँ कातिल ने एक लेडी टीचर से पहले उसका नाम पूछा और फिर बन्दूक निकाल उसके सिर में गोली दाग दी. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

जानकारी के मुताबिक मृत शिक्षक कीर्ति (पिता रमेशचन्द्र माली) खंडवा की रहने वाली थी. वो हरसूद के एक पॉलिटेक्निक कॉलेज में अतिथि शिक्षक के रूप में पढ़ाती थी. अपनी नौकरी के चलते वो रोजाना खंडवा से हरसूद आना जाना करती थी. रोज की तरह सोमवार को भी कीर्ति खंडवा से हरसूद के लिए ट्रेन में चढ़ी. इस दौरान उसके साथ साथी टीचर अनिता, साेनू और अनिल भी थे. ये लोग सुबह 9 बजे छनेरा रेल्वे स्टेशन पर उतरें. यहाँ से कॉलेज कुछ दुरी पर हैं जिसके लिए ये रोज की तरह पैदल ही चल पढ़े.

जब ये लोग स्टेशन से करीब 400 फीट की दूरी पर पहुंचे तो एक बाइक सवार युवक इन लोगो के सामने आकर खड़ा हो गया. युवक ने इन सभी से पूछा कि आप में से कीर्ति कौन हैं? इसके बाद जैसे ही कीर्ति ने युवक को अपना नाम बताया तो उसने जेब से बन्दूक निकाली और कीर्ति सिर में गोली दाग दी. इसके बाद युवक बाइक लेकर वहां से भाग गया.

ये गोली कीर्ति के सिर के बायीं तरफ लगी. गोली लगते ही कीर्ति जमीन पर गिर पड़ी और उसके सिर से खून बहने लगा. इस घटना से उसके साथ टीचर बेहद घबरा गए. हालाँकि बाद में उन्होंने खुद को संभाला और कीर्ति को तुरंत पास के नजदीकी अस्पताल ले गए. इस दौरान उन्होंने पुलिस को भी इसकी सुचना कर दी. यहाँ अस्पताल में कीर्ति का प्राथमिक उपचार किया गया लेकिन उसकी हालत गंभीर होने की वजह से उसे खंडवा के अस्पताल में रेफेर किया गया. पुलिस और कीर्ति के साथी टीचर उसे खंडवा ले जा रहे थे तभी रास्ते में उसने दम तोड़ दिया और उसकी मौत हो गई.

पुलिस ने जब परिजनों को पूछताछ के लिए बुलाया तो पता चला कि कीर्ति की शादी सागर में हुई थी. लेकिन रिश्तों में दरार आ जाने की वजह से उसका तलाक का केस कोर्ट में चल रहा था. इस वजह से कीर्ति अपने मायके खंडवा में रहने लगी. यहाँ वो खंडवा के पास हरसूद के पॉलिटेक्निक कॉलेज में कम्प्यूटर फंडामेंटल पढ़ाती थी. वो रोजाना सुबह खंडवा से हरसूद ट्रेन से आना जाना करती थी. उसका कॉलेज स्टेशन से करीब डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर हैं.

पुलिस को घटना स्थल से बन्दूक से चली गोली की खोल मिली हैं. पुलिस घटना स्थल पर मौजूद अन्य लोगो से भी पूछताछ कर रही हैं. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कीर्ति को गोली मारने वाला युवक स्टेशन पर आधे घंटे से खड़ा था. उसने जींस और कोट पहन रखा था. उसक हाथ में एक काला बेग भी था, जिसकी वजह से वो कॉलेज स्टूडेंट लग रहा था. शायद इसी वजह से कीर्ति ने भी युवक के द्वारा नाम पूछे जाने पर पहली बार में ही जवाब दे दिया. कीर्ति के परिजनों के अनुसार उसका किसी से कोई विवाद नहीं था. फिलहाल पुलिस कातिल की तलाश कर रही हैं.

Loading...

Check Also

मध्यप्रदेश चुनाव : दतिया विधानसभा सीट पर कांग्रेस-बीजेपी की लड़ाई में बसपा ठोक पाएगी ताल?

मध्यप्रदेश चुनाव : दतिया विधानसभा सीट पर कांग्रेस-बीजेपी की लड़ाई में बसपा ठोक पाएगी ताल?

2019 लोकसभा चुनावों का सेमीफाइनल कहे जा रहे 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव हर राजनीतिक …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com