इस गेंदबाज के स्पेल ने दिलाया फाइनल का टिकट: रोहित

- in खेल

बांग्लादेश के खिलाफ बुधवार को निदहास ट्रॉफी ट्राई टी-20 सीरीज के पांचवें मैच में तीन विकेट लेकर भारत को फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाने वाले ऑफ स्पिन गेंदबाज वॉशिंगटन सुंदर की कप्तान रोहित शर्मा ने जमकर तारीफ की है.

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित के 89 और सुरेश रैना के 47 रनों की पारी के दम पर बांग्लादेश को 177 रनों का लक्ष्य दिया था.

बांग्लादेश को इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए एक मजबूत शुरुआत की जरूरत थी, जो सुंदर ने उन्हें हासिल नहीं करने दी. सुंदर ने 40 रनों तक ही बांग्लादेश के तीन विकेट चटका दिए थे.

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘वॉशिंगटन सुंदर का स्पैल शानदार था. नई गेंद से गेंदबाजी करना आसान नहीं होता. बाकी गेंदबाजों ने भी अच्छी गेंदबाजी की.’

उन्होंने कहा, ‘वॉशिंगटन ने काफी बहादुरी से गेंदबाजी की. वह फ्लाइट देने से डरे नहीं. वह साफ तौर पर जानते थे कि उन्हें क्या चाहिए. इससे मुझे राहत मिली. उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ भी अच्छी गेंदबाजी की थी.’

क्रिकेट इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा कारनामा, इस गेंदबाज ने 1 रन देकर लिए 7 विकेट

रोहित ने इस मैच में फॉर्म में वापसी करते हुए 61 गेंदों में पांच चौके और इतने ही छक्के मारते हुए अर्धशतकीय पारी खेली.

अपनी बल्लेबाजी पर रोहित ने कहा, ‘मेरे लिए फॉर्म में वापसी करना जरूरी था. विकेट बल्लेबाजी के लिए आसान नहीं थी, इसलिए मैंने अपना समय लिया. मैं जानता था कि नया बल्लेबाज आएगा तो उसे खेलने में दिक्कत होगी.’

रोहित ने रैना के साथ दूसरे विकेट के लिए 102 रनों की साझेदारी की. रैना पर रोहित ने कहा, ‘रैना भी शानदार फॉर्म में हैं. उम्मीद है कि वह फाइनल में भी इस तरह की बल्लेबाजी करेंगे.’

You may also like

पाकिस्तान की हार के बाद सरफराज बोले- सिर्फ दो स्पिनरों के लिए की थी तैयारी

नई दिल्लीः एशिया कप के 5वें मुकाबले में भारतीय