कृषि मंत्री ने कांग्रेस और सपा पर साधा निशाना, गाय-भैंस में फर्क न जानने वाले कब से हुए किसानों के हितैषी

लखनऊ ।  केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने बिना नाम लिए कांग्रेस और सपा पर जमकर निशाना साधा। मंत्री ने कहा है कि काली गाय और भैंस में फर्क नहीं कर पाने वाले कबसे किसानों के हितैषी हो गए? 2005 में किसान आयोग ने किसानों के हित में कई संस्तुतियां की थीं। राजकुमार 10 साल तक कहां सोए थे? दरअसल इस दौरान उनकी पार्टी सिर्फ एक परिवार को मजबूत करने में लगी रही। उनके 48 साल के कार्यकाल पर मोदी सरकार के 48 माह भारी रहे। ऐसे में उनकी बौखलाहट स्वाभाविक है।कृषि मंत्री ने कांग्रेस और सपा पर साधा निशाना, गाय-भैंस में फर्क न जानने वाले कब से हुए किसानों के हितैषी

हर केवीके पर बनेंगे मॉडल फार्म
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने को प्रतिबद्ध है। लिहाजा किसानों के हित में फैसले जारी रहेंगे। किसान आकर एकीकृत खेती को देखें और सीखें। इसके लिए कृषि विश्वविद्यालयों की तरह सभी कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके) में मॉडल फार्म बनेंगे। 

उप्र को होगा सर्वाधिक लाभ : शाही 
प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि उप्र में किसान परिवारों की संख्या करीब 2.33 करोड़ है। स्वाभाविक रूप से एमएसपी बढऩे का सर्वाधिक लाभ भी यहां के ही किसान को होगा। सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा कि अन्नदाता के चेहरे पर मुस्कान लाना ही सरकार का मकसद है। गन्ना विकास राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार सुरेश राणा ने कहा कि मोदी और योगी ने पहली बार किसानों का दर्द समझा। चुनाव के समय जो कहा उसको किया।

मुख्यमंत्री से मिले केंद्रीय कृषि मंत्री
केंद्रीय मंत्री ने देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके आवास पर मुलाकात की। दोनों में खेतीबाड़ी की बेहतरी के विभिन्न मुद््दों पर बात हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बटुक भैरव देवालय में भादों का मेला 23 सितम्बर को

 अभिषेक के बाद होगा दर्शन का सिलसिला, नए