युवाओं को आकर्षक लग रहा आतंकवाद: पूर्व पुलिस चीफ कुलदीप खोड़ा

जम्मू कश्मीर के पूर्व पुलिस प्रमुख कुलदीप खोड़ा ने कहा है कि आतंकवाद के प्रति शिक्षित युवाओं के आकर्षित होने और बंदूक थामने की आदत के पसंदीदा और आकर्षक विकल्प बनने के साथ कश्मीर में एक पंथ पैदा हो चुका है. खोड़ा ने एक ब्लॉग में कहा कि आतंकवाद के आयाम और परिदृश्य बदल रहे हैं. खोड़ा ने कहा , ‘‘ लेकिन घाटी में जहां आतंकवाद पिछले तीन दशकों में मजबूत जगह बना चुका है, यहां बंदूक उठाना महज आसानी से उपलब्ध विकल्प नहीं, बल्कि एक पसंदीदा और आकर्षक विकल्प बन गया है. ’’युवाओं को आकर्षक लग रहा आतंकवाद: पूर्व पुलिस चीफ कुलदीप खोड़ा

पिछले साल सेवानिवृत्त होने से पहले खोड़ा राज्य के मुख्य सतर्कता आयुक्त के रूप में भी सेवा कर चुके हैं. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के आकर्षण ने बहुत से शिक्षित लड़कों को आतंकवादी बनने के लिए आकर्षित किया है. खोड़ा ने कहा कि आतंकवाद के आयाम और परिदृश्य बदल रहे हैं. खोड़ा 2007 से 2012 तक जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख रहे हैं.

खोड़ा ने आगे कहा , ‘‘ पहले नहीं सुना जाता था, लेकिन अब सच्चाई ये है कि बड़ी संख्या में शिक्षित युवक आतंकवाद से जुड़ रहे हैं. अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़ने वाला एक स्थानीय पीएचडी कर रहा युवक, कश्मीर विश्वविद्यालय का एक संकाय सदस्य जो मुठभेड़ में मारा गया, एक चर्चित अलगाववादी का एमबीए डिग्रीधारक बेटा, हाल में आतंकवाद से जुड़े शिक्षित युवाओं के कुछ उदाहरण हैं.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने देशभर के कॉलेजों में ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ का जारी किया निर्देश

देशभर के कॉलेज और विश्वविद्यालयों में 29 सितंबर