Home > अपराध > हरियाणा में प्रमोशन के दस दिन बाद रिश्वतखोरी में जुटा एसआइ, विजिलेंस ने रंगे हाथों पकड़ा

हरियाणा में प्रमोशन के दस दिन बाद रिश्वतखोरी में जुटा एसआइ, विजिलेंस ने रंगे हाथों पकड़ा

यमुनानगर। थाना फर्कपुर में तैनात सब इंस्पेक्टर बलिंद्र सिंह दस दिन पहले ही एएसआइ से एसआइ बना था। एसआइ बनते ही उसके तेवर भी बदलने लगे और रिश्वतखोरी करने लगा। विजिलेंस ने उसे गत देर सायं 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया। वह केस रद करने की एवज में बीएसएनएल के एसडीओ से रिश्वत मांग रहा था। आरोपित को गिरफ्तार कर विजिलेंस सरोजनी कालोनी स्थित अपने कार्यालय में ले आई।हरियाणा में प्रमोशन के दस दिन बाद रिश्वतखोरी में जुटा एसआइ, विजिलेंस ने रंगे हाथों पकड़ा

उधर, बलिंद्र ने रिश्वत के आरोपों को झूठ बताया और कहा कि उससे किसी प्रकार की रिकवरी नहीं हुई है। फर्कपुर की नई आबादी कालोनी निवासी मुकेश सिसोदिया बीएसएनएल में एसडीओ हैं। उनकी पत्नी फर्कपुर के ही बैंक ऑफ बड़ौदा में कार्यरत हैं। 22 मार्च को फर्कपुर थाने में बैंक मैनेजर नरेंद्र कुमार ने मुकेश के खिलाफ मारपीट का केस दर्ज कराया था। मामले की जांच डीएसपी द्वारा की गई थी।

जांच में मारपीट के आरोप गलत पाए गए, इसलिए डीएसपी ने केस रद करने की सिफारिश की। थाना फर्कपुर पुलिस ने सब इंस्पेक्टर बलिंद्र सिंह को जांच अधिकारी बना दिया। मुकेश ने विजिलेंस को बताया कि जब वह थाने में गया तो बलिंद्र ने कहा कि उसके बयान दर्ज करने के बाद वह केस रद कर देगा। मगर इसकी एवज में 10 हजार रुपये देने होंगे। इसके बाद रुपये देने के लिए शाम पांच बजे का समय तय किया गया।

मुकेश की शिकायत पर बीडीपीओ जगाधरी दिनेश कुमार को ड्यूटी मजिस्ट्रेट बनाकर भेजा गया। विजिलेंस ने दो हजार के पांच नोट देकर मुकेश को थाने भेज दिया। इन नोटों पर पहले ही केमिकल लगा दिया गया था। रिश्वत देने के बाद मुकेश ने विजिलेंस को इशारा कर दिया।

विजिलेंस ने बलिंद्र के तख्त  के गद्दे के नीचे से 10 हजार रुपये बरामद कर लिए। उसके हाथ धुलवाए गए तो वह लाल हो गए। विजिलेंस इंस्पेक्टर दीपक बख्शी ने बताया कि सब इंस्पेक्टर बलिंद्र सिंह को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा है। उसके खिलाफ केस कार्रवाई की जा रही है।

दो दिन रहना पड़ा जेल : मुकेश

मुकेश सिसोदिया ने बताया कि एक तो उस पर झूठा केस दर्ज करवा दिया गया। उसे दो दिन हवालात में भी रहना पड़ा। अब उससे ही 10 हजार रुपये की रिश्वत मांगी जा रही थी, इसलिए उसने एसआइ बलिंद्र को सबक सिखाने के लिए विजिलेंस को सूचना कर दी।

Loading...

Check Also

एक महिला ने अपने पति के खिलाफ ही रेप का केस करवाया था दर्ज, फिर किया ये काम

हाल ही में अपराध की एक खबर ने सभी को हैरान कर दिया है. जी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com