विराट के बिना अफगानिस्तान का ‘टेस्ट’ पास करने उतरेगी टीम इंडिया

- in खेल

नई दिल्ली. भारत और अफगानिस्तान के बीच माइंड गेम खत्म हो चुका है. अब बारी असली खेल की है. क्रिकेट के टेस्ट में पास होनेविराट के बिना अफगानिस्तान का 'टेस्ट' पास करने उतरेगी टीम इंडिया की है.दोनों टीमों के बीच एकमात्र टेस्ट मैच बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा. इस मुकाबले के साथ अफगानिस्तान की टीम इंटरनेशनल टेस्ट एरेना में डेब्यू करने वाली है यानी उनका अनुभव जीरो है. दूसरी ओर टीम इंडिया टेस्ट में नंबर वन है. इसका मतलब है कि उसे इस टेस्ट को पास करने में मुश्किल नहीं होनी चाहिए. लेकिन, इसका ये मतलब भी नहीं कि अफगानिस्तान को हल्के में लिया जाए. अफगानिस्तान के पास इस टेस्ट में खोने को कुछ नहीं है, यानी इस टेस्ट को जीतने के लिए वो अपना सबकुछ झोक देंगे.

टीम इंडिया के टक्कर में नहीं अफगानिस्तान

अफगानिस्तान अपनी स्पिन की ताकत का ढिंढोरा तो पीट रहा है लेकिन अगर आंकड़े देखें तो उसके लिए भारत को हराना नाकों चने चबाने जैसा नजर आता है. साल 2010 से टीम इंडिया का अपने घर में टेस्ट क्रिकेट में बाकी टीमों की तुलना में शानदार रिकॉर्ड रहा है. इस दौरान भारत की जीत हार का रेसियो 7.25 का रहा है. हाल के दिनों में अफगानिस्तान ने शॉर्टर फॉर्मट में वर्ल्ड क्रिकेट में अपनी छाप जरूर छोड़ी है, लेकिन टीम इंडिया के खिलाफ उसे अब भी पहली इंटरनेशनल जीत का इंतजार है. अफगानिस्तान ने भारत के साथ कुल 2 T20 और एक वनडे मुकाबला खेला है और इन सबमें उसे हार का सामना करना पड़ा है.

प्लेइंग इलेवन कैसा हो?

भारत के खिलाफ टेस्ट मैच में उतरने के साथ ही अफगानिस्तान क्रिकेट के लंबे फॉर्मेट में शिरकत करने वाली 12वीं टीम बन जाएगी. भारत की नजर शॉर्टर फॉर्मेट की तरह ही लंबे फॉर्मेट में भी अफगानिस्तान पर अपने वर्चस्व को बनाए रखने की होगी और इसके लिए जरूरी होगा एक ऐसी प्लेइंग इलेवन खड़ी करना जो अफगानी स्पिन का मुंहतोड़ जवाब दे सके.

राहुल को मिडिल ऑर्डर में मौका

शिखर धवन पहले ओपनर के तौर पर टीम का हिस्सा होंगे जबकि उनके जोड़ीदार के तौर पर मुरली विजय को मौका मिल सकता है, जिनका एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम पर बाकी भारतीय बल्लेबाजों की तुलना में फर्स्ट क्लास बैटिंग औसत सबसे ज्यादा 86 का है. वहीं तीसरे ओपनर लोकेश राहुल भी जबरदस्त फॉर्म में है और स्पिन की बखिया उधेड़ने में माहिर हैं. इस काबिलियत की वजह से राहुल को मीडिल ऑर्डर में मौका मिल सकता है. इसके अलावा फर्स्ट डाउन पर चेतेश्वर पुजारा का खेलना तय है. वहीं कप्तान अजिंक्य रहाणे, विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को भी टीम के मिडिल ऑर्डर में भी जगह मिली तय है.

4 स्पेशलिस्ट गेंदबाज

टीम की गेंदबाजी लाइन अप में भारत 2 स्पिनर और 2 तेज गेंदबाज को उतार सकता है. स्पिन में अश्विन के अलावा रवींद्र जडेजा को जगह मिल सकती है जबकि तेज गेंदबाजी में उमेश यादव और ईशांत शर्मा प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बन सकते हैं.

टीम इंडिया का संभावित प्लेइंग XI

शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, लोकेश राहुल, अजिंक्य रहाणे (कप्तान), दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, आर.अश्विन, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव, ईशांत शर्मा

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

FIFA2018 में सर्बिया-स्विट्जरलैंड के बीच होगा मुकाबला, ये टीम हो सकती है विजयी

नई दिल्ली: जीत के सात शुरुआत करने वाली सर्बिया