जम्मू-कश्मीर में आर्मी ने एक घुसपैठियों को मार गिराने का दावा किया है. सेना ने बुधवार को कहा कि उसने जम्मू एवं कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर एक घुसपैठिए को मार गिराया. रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने कहा, “घुसपैठिए को चुनौती दी गई, उसने फायरिंग की और सेना ने जवाबी कार्रवाई की. घुसपैठिए को मार गिराया गया और उसका शव जम्मू एवं कश्मीर पुलिस को सौंप दिया गया.”

सूत्रों ने कहा कि यह घटना नियंत्रण रेखा के पास केरी इलाके में हुई. हालांकि, मारे गए आतंकवादी के पास से किसी तरह के हथियार बरामद किए जाने की पुष्टि नहीं की गई है.

हिज्बुल का कट्टर सदस्य गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर में हिज्बुल मुजाहिदीन के एक शीर्ष सदस्य को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. ये आतंकी युवाओं को आतंकी समूह से जोड़ने का काम करता था और जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में आतंकवाद को फिर से पैर जमाने में मदद देता था.

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गुप्त सूचना मिलने पर तौसीफ अहमद गुड़ना उर्फ अबू बकर को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया. दो महीने पहले पुलिस ने उस संगठन का पर्दाफाश किया था जो जिले में आतंकवाद के पैर जमाने और ग्रेनेड हमले की साजिश रच रहा था. एक जुलाई को हिज्बुल के दो कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था, उनसे पूछताछ में गुड़ना का नाम सामने आया था.

प्रवक्ता ने बताया कि गुड़ना की गिरफ्तारी के साथ ही ”आतंकी गतिविधियों के घटने और राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में शामिल होने वाले युवाओं की संख्या में कमी आने की संभावना है.” गुड़ना हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी मोहम्मद अमीन उर्फ जहांगीर का करीबी सहयोगी भी है.