सुशील मोदी ने लालू की जमानत रद करने की मांग की

पटना। भाजपा नेता सुशील मोदी ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जमानत रद करने की मांग करते हुए कहा है कि लालू जमानत पर हैं।लेकिन उन्होंने तेलुगुदेशम पार्टी के नेताओं से मुलाकात की है। उन्होंने कहा कि तेलुगुदेशम पार्टी के नेताओं ने तेजस्वी यादव के नाम का ज्ञापन दिया और लालू से मुलाकात की। एेसे में उनकी जमानत को रद कर दिया जाए। सुशील मोदी ने लालू की जमानत रद करने की मांग की

उन्होंने कहा कि चारा घोटाला के चार मामलों में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को राजनीतिक कार्यों से अलग रहने की शर्त पर केवल इलाज के लिए कोर्ट से जमानत मिली थी। लेकिन लालू लगातार कोर्ट की शर्तों का उल्लंघन कर रहे हैं। सुशील मोदी ने कहा कि राजद प्रमुख ने पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत से बात की और उसके बाद तेलुगु देशम पार्टी के तीन सांसदों ने उनसे मिलकर राजनीतिक चर्चाएं की। इस आधार पर सीबीआई को लालू प्रसाद की जमानत तत्काल रद कर देनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि तेलुगु देशम पार्टी के सांसदों ने स्वीकार किया है कि उन लोगों ने हालचाल पूछने के नाम पर लालू प्रसाद से भेंट की और सांसद के मानसून सत्र में संभावित प्रस्ताव पर उनकी पार्टी का समर्थन मांगा है। बाद में इन सांसदों ने बिहार में नेता प्रतिपक्ष और लालू प्रसाद के पुत्र और प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के नाम एक ज्ञापन भी सौंपा।

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि टीडीपी और राजद, दोनों दलों ने लालू प्रसाद से राजनीतिक बातचीत की पुष्टि कर यह साबित किया कि इन्हें जमानत की शर्तों का पालन करने की कोई परवाह नहीं है और यह अदालत की अवमानना का मामला भी है। डिप्टी सीएम ने कहा कि लालू की जमानत की अर्जी खारिज करते हुए सीबीआई के जज ने पहले ही यह टिप्पणी की है कि राजनीति करने और हाथी पर घूमने के लिए जमानत नहीं दी जा सकती। सीबीआई कोर्ट को लालू प्रसाद की सेहत और उनकी राजनीतिक गतिविधियों की समीक्षा कर तुरंत फैसला लेना चाहिेए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

एमपी की राजनीति में फिर होगी उमा भारती की एंट्री

मध्य प्रदेश की राजनीति में आठ साल बाद