सनी लियोनी की बायोपिक में इस बात को लेकर हुआ बड़ा बवाल

- in मनोरंजन

चंडीगढ़। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) ने बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोनी के नाम पर बन रही फिल्म में उनके नाम के आगे ‘कौर’ शब्द का इस्तेमाल करने पर गंभीर नोटिस लिया है। कमेटी ने फिल्म निर्माता सुभाष चंद्रा (एसएल ग्रुप) को कहा है कि वह या तो इस शब्द को फिल्म से हटा लें या फिर सिख भावनाओं को ठेस पहुंचाने पर नतीजे भुगतने को तैयार रहें।सनी लियोनी की बायोपिक में इस बात को लेकर हुआ बड़ा बवाल

सुभाष चंद्रा को लिखे इस पत्र में कमेटी के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि ‘करनजीत कौर- द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ सनी लियोनी’ नाम की फिल्म में सनी लियोनी के जीवन को दर्शाया गया है। इससे सिख भावनाओं को गहरी चोट लगी है। उन्होंने कहा कि हैरानी इस बात की है कि उत्तर भारतीय होते हुए व पंजाबी जीवन शैली से भलीभांति परिचित होने के बावजूद उन्होंने कौर शब्द के साथ फिल्म बनाने की मंजूरी दी। उन्होंने कहा कि कौर शब्द हर सिख महिला के नाम के साथ लगता है। इससे उसे गुरु साहिब की तरफ से बख्शी गई अलग पहचान हासिल होती है।

उन्होंने कहा कि उनको इस बात पर ऐतराज नहीं है कि सनी लियोनी का अतीत कैसा रहा है और उनके जीवन पर फिल्म बन रही है। उन्होंने सनी लियोनी के नाम से प्रसिद्धि पाई है, तो फिल्म करनजीत कौर नाम से क्यों बनाई जा रही है?उन्होंने कहा की डीएसजीएमसी ने इससे पहले जैकलीन फर्नांडिज की ओर से किरपाण धारण कर गाने का विरोध किया था। इसके बाद उन्हें गाने में संशोधन करना पड़ा था। इसी तरह तारक मेहता का उल्टा चश्मा में गुरु गोबिंद सिंह का चरित्र दिखाने का भी विरोध किया गया था। डीएसजीएमसी सिख मर्यादा के साथ छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं करेगी।

डीएसजीएमसी के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा का सुभाष चंद्रा को चिट्ठी लिखकर इस फिल्म के प्रीमियर को रुकवाने या फिल्म से ‘कौर’ शब्द हटाने की गुहार लगायी है। मनजिंदर सिंह सिरसा ने सुभाष चंद्रा को संबोधित करते हुए चिट्ठी में लिखा है कि अगर हमारी गुहार को नहीं सुना गया तो डीएसजीएमसी इस पब्लिसिटी स्टंट के खिलाफ आपके दफ्तर तक पहुंचेगी। उन्होंने आगे कहा- हम ‘कौर’ उपनाम के गलत इस्तेमाल को लेकर आपके दफ्तर के प्रांगण में विरोध करने से भी पीछे नहीं हटेंगे।

बता दें कि इसा साल अकाल तख्त ने सिखों से जुड़ी हुई फिल्मों को लेकर एक अगल सेंसर बोर्ड ‘सिख सेंसर बोर्ड’ का गठन किया है। सिखों की मान्यताओं से जुड़ी फिल्मों को इस सेंसर बोर्ड से मान्यता लेनी होगी। हाल में ‘नानक शाह फकीर’ नाम की पंजाबी फिल्म को लेकर हुए बवाल के बाद नया सेंसर बोर्ड बनाने की बात सामने आयी।

सनी लियोनी के जीवन पर नजर डालें तो करनजीत कौर वोहरा यानी सनी लियोनी का जन्म एक भारतीय-कनाडाई परिवार में 31 मई 1981 को हुआ था। सनी उनके भाई का नाम है, जिसे उन्होंने पोर्न इंडस्ट्री में जाने पर अपना लिया। पोर्न फिल्म इंडस्ट्री में काफी नाम कमाने के बाद उन्हें टीवी रियलिटी शो ‘बिग बॉस’में काम करने का मौका मिला। इसके बाद साल 2012 में फिल्म ‘जिस्म-2’ से उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यू किया। इसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में काम किया है। सनी लियोनी की जिंदगी की कहानी बड़ी ही रोचक है। शायद यही सोचकर फिल्मकार ने उनके जीवन पर फिल्म बनाने की सोची होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

जाह्नवी कपूर की इस ड्रेस को देखकर लोगो के उड़े होश, तस्वीरे देख पागल हो जाएगे

दोस्तों बॉलीवुड की पहली सुपर स्टार रहा चुकी