इस तरह की महिलाएं शारीरिक संबंध बनाने में पुरुषों से रखती हैं ज्यादा रूचि

दोस्तों हमारे हिन्दू शास्त्र के अनुसार शादी एक ऐसा पवित्र रिश्ता जो की सभी रिश्तो में सबसे श्रेष्ट माना गया है इसमें दो शारीर के मिलन के साथ दो दिलो का भी मेल होता है| यह एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही हर लड़की का मन में एक अजीब तरह का ख्याल आता है और शादी के बारे में सोचकर उसका मन भी ख़ुशी से झूम उठता है| हर लड़की के मन में यही रहता है कि उसका भी पति उसे बहुत प्यार करे और उसका पूरा ख्याल रखे शादी का दिन हर लड़की के लिए बहुत खास होता है चाहे लड़का हो या लड़की शादी के बाद से ही उन दोनों की नयी जिंदगी शुरू होती है| ये तो आप जानते ही होंगे की शादी के बाद महिलाओं को सिंगार करना पड़ता है|

इस तरह की महिलाएं शारीरिक संबंध बनाने में पुरुषों से रखती हैं ज्यादा रूचिहिन्दू धर्म में सबसे अहम् श्रृंगार है मांग का सिंदूर जिसका की बहुत खास महत्व माना जाता है। यह एक महिला के लिए उसके सुहाग की निशानी होती है। हम जब भी कभी किसी शादीशुदा औरत को देखते हैं तो उसके माथे पर सिंदूर जरूर लगा दिखता है। एक शादीशुदा औरत को सिंदूर के बिना अधूरा माना जाता है। हिंदू पौराणिक कथाओं में सिंदूर का आध्यात्मिक महत्व माना जाता है, लेकिन क्या आपने कभी सिंदूर लगाने के पीछे के कारणों को जानने का प्रयास किया है। इस सिंदूर को ना केवल शादी के प्रतीक के रूप में लगाया जाता है बल्कि इसे लगाने के पीछे और भी कई कारण हैं जो आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

1.हमारे हिंदू समाज में जब भी किसी लड़की की शादी होती हैं तो उसके लिए सिंदूर लगाना बहुत जरूरी होता है। माना जाता है कि शादीशुदा महिला का सिंदूर लगाना उसके पति की लंबी उम्र की कामना का प्रतीक होता है। यही वजह है कि विधवा औरतें अपनी मांग में सिंदूर नहीं लगती हैं। और ये भी कहा जाता है की सिंदूर महिलाओ का bp भी कण्ट्रोल करता है|

2. सिंदूर के माध्यम से हमारा रक्तचाप भी नियंत्रण में रहता है। इसके साथ ही यह महिलाओं में सेक्स की इच्छा को बढ़ाने में भी मदद करता है। सिंदूर के माध्यम से महिलाओं की पिट्यूटरी ग्रंथियां स्थिर रहती हैं। हिंदुओं का मानना है कि सिंदूर लगाने से देवी पार्वती ‘अखंड सौभागयवती’ होने का आशीर्वाद देती हैं।

3. वैज्ञानिक दृष्टि से अगर देखें तो एक औरत जब सिंदूर लगाती है तो वह सिंदूर उसके मन को शांत रखने में भी मदद करता है। इतना ही नहीं सिंदूर से उसका स्वास्थ भी अच्छा बना रहता है। और उनका प्रेम भी बना रहता है|

4. यह कहा जाता है कि देवी लक्ष्मी पृथ्वी पर पांच स्थानों पर रहती हैं और उन्हें हिन्दू समाज में सिर पर स्थान दिया गया है। जिसके कराण हम माथे पर कुमकुम लगा कर उन्हें समान देते हैं। देवी लक्ष्मी हमारे परिवार के लिए अच्छा भाग्य और धन लाने में मदद करती हैं।

5. हिन्दू धर्म में ऐसी मान्यता है की नवरात्र और दीवाली जैसे महत्वपूर्ण त्योहारों के दौरान पति के द्वारा अपनी पत्नी की मांग में सिंदूर लगाना बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह उनके एक साथ रहने का प्रतीक होता है और इससे वो काफी लंबे समय तक एक साथ रहते हैं।

Loading...

Check Also

इन कारणों से अचानक से बढ़ जाता है स्‍तनों का आकार, कारण जानकर आप भी…

महिलाओं के जीवनकाल के अलग अलग पड़ाव में स्‍तनों के आकार में बदलाव आना एकदम …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com