आखिर क्यों..? इस छात्र ने की आत्महत्या की कोशिश, और सीएम योगीसे की ये अपील…

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के कलकानपुर में दिल्ली पब्लिक स्कूल के 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्र ने आत्महत्या की कोशिश की। छात्र ने स्कूल के शिक्षकों और प्रिंसिपल द्वारा बार-बार अपमानित करने के बाद आत्महत्या का फैसला किया। जानकारी के मुताबिक छात्र को स्कूल में आतंकवादी कहा जाता है। क्योंकि छात्र मुसलमान है। बता दें 23 सितंबर की रात को छात्र को अस्पताल में भर्ती कराया गया। क्योंकि उसने अधिक मात्रा में नींद की गोलियां और फेनिल खाई ।

आखिर क्यों..? इस छात्र ने की आत्महत्या की कोशिश, और सीएम योगीसे की ये अपील...

छात्र ने सुसाइड नोट पर लिखा कि स्कूल में मेरे साथ शिक्षक और प्रिंसिपल भेदभाव करते हैं। यही नहीं छात्र ने सुसाइड नोट में यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ से इस मामले पर चार शिक्षकों और प्रिंसिपलों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया। छात्र ने अस्पताल से भी बार-बार सीएम योगी से अपील की और कहा सीएम सर मैं आतंकवादी नहीं हूं, बल्कि एक छात्र हूं।

ये भी देखें:- हुआ बड़ा खुलासा, आज खुलेंगे राम रहीम के हर गहरे राज, हनीप्रीत दिल्ली में करेगी…

छात्र ने कहा कि मैं शिक्षा हासिल करने के बाद पूर्व राष्ट्रपति एपीजे जैसे वैज्ञानिक बनना चाहते हैं। छात्र ने कहा मुझे स्कूल में शक की निगाहों से देखा जाता है, जैसे मैं आतंकवादी हूं। मेरे बैग की रोज चेकिंग की जाती है। मुझे क्लास के सबसे आखिरी सीट में बिठाया जाता है। अगर मैं टीचर से कुछ पूछता हूं, तो वो मुझे क्लास से बाहर कर देते हैं। टीचर की इस हरकत के कारण बाकी बच्चे भी मुझसे दूर रहते हैं।

स्थानीय मीडिया से छात्र की मां ने कहा कि टीचर द्वारा इसका बैग चैक किया जाता रहा है, तब से ये मानसिक रूप से ज्यादा परेशान था। स्कूल प्रबंधक को लगता है कि उसके पास बंदूक है। छात्र के पिता का कहना है कि बेटे के साथ इस तरह की हरकत से मैं काफी आहत हूं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बटुक भैरव देवालय में भादों का मेला 23 सितम्बर को

 अभिषेक के बाद होगा दर्शन का सिलसिला, नए