छात्रा ने शादी से किया इंकार तो काट दिया गला

चेन्नई के केके नगर में एक छात्रा का पीछा करने वाले शख्स ने उसके कॉलेज के गेट पर मार दिया। यह उस घातक प्रवृत्ति को उजागर करता है जिसने जून 2016 से अब तक चार महिलाओं की जान ले ली है। पुलिस के अनुसार 19 साल की एम अश्विनी मीनाक्षी एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च में बीकॉम फर्स्ट ईयर की छात्रा थी। वह शुक्रवार को, दिन में करीब 2.45 बजे बस स्टैंड की तरफ जा रही थी कि तभी 26 साल के आरोपी अलागेसन ने उस पर खंजर से हमला कर दिया। आरोपी ने छात्रा का गला काट दिया।
छात्रा ने शादी से किया इंकार तो काट दिया गला 

अश्विनी को पास के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पास से गुजर रहे लोगों ने पानी की डिलिवरी करने वाले अलागेसन को पड़ोस से पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। अश्विनी के परिजनों ने पिछले महीने अलागेसन के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी क्योंकि वह उनकी बेटी का पीछा किया करता था। आरोपी छात्रा पर उससे शादी करने का दबाव बना रहा था। शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया था और डरी हुई अश्विनी ने भी कुछ दिनों के लिए कॉलेज जाना छोड़ दिया था।

रहम के मूड में नहीं है भारतीय सेना, एलओसी पर गोलीबारी जारी

अश्विनी ने पिछले हफ्ते ही कॉलेज जाना शुरू किया था और इधर अलागेसन को जमानत मिल गई। छात्रा की घटना ने एक बार फिर से 24 जून 2016 की उस घटना की याद दिला दी, जब इंफोसिस की कर्मचारी एस स्वाति की दिन के उजाले में चाकू से गोदकर निर्मम हत्या कर दी थी। यह घटना तब हुई थी जब वह नुंगमबक्कम जैसे व्यस्त रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रही थी।

मानवाधिकार कार्यकर्ता ओर मद्रास हाईकोर्ट की वकील सुधा रामालिंगम ने कहा- पुरुष महिलाओं को इच्छाओं की वस्तुओं की तरह देखते हैं न कि भावनाओं से भरपूर मनुष्य के तौर पर। उन्होंने आगे कहा कि ऐसा लगता है कि पुरुष कभी इस बात की अपेक्षा नहीं करते और न ही स्वीकार करते हैं कि एक महिला को उसका जीवनसाथी चुनने का अधिकार है। वह ‘न’ को सहन नहीं कर पाते हैं। इसी वजह से उस शख्स को खत्म कर देते हैं जो उनका नहीं हो सकता।

 
Loading...

Check Also

सबरीमाला मंदिर पर जारी विवाद को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट लेगा बड़ा फैसला

सबरीमाला मंदिर पर जारी विवाद को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट लेगा बड़ा फैसला

सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को सबरीमाला मंदिर पर जारी विवाद को लेकर सुनवाई होनी है। …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com