UP की इस फैमली के कारण गई दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति की कुर्सी

- in राजनीति

दक्षिण अफ्रीका में कारोबारी साम्राज्य खड़ा करने वाले अजय गुप्ता समेत तीन भाइयों के घरों पर जोहानिसबर्ग पुलिस ने बुधवार को छापा मारा। परिवार के एक सदस्य को गिरफ्तार भी किया गया है। इस बीच सत्तारुढ़ अफ्रीकी नेशनल कांग्रेस (एएनसी) ने जुमा पर राष्ट्रपति पद छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा। जैकब ज़ुमा ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने बुधवार शाम देश के नाम टेलिविजन पर प्रसारित संबोधन में इस्तीफ़े का ऐलान किया। इसके पहले जुमा की पार्टी एएनसी ने उन्हें पद छोड़ने या फिर गुरुवार को संसद में अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने को कहा था। गुप्ता परिवार पर जुमा के साथ मिलकर आर्थिक अनियमितता करने का आरोप है। दिलचस्प बात यह है कि गुप्ता का पूरा परिवार उप्र स्थित सहारनपुर का मूल निवासी है।

1993 में कारोबार के लिए दक्षिण अफ्रीका गए गुप्ता परिवार

तीन दशक पहले अजय गुप्ता दिल्ली गए और 1993 में कारोबार के लिए दक्षिण अफ्रीका चले गए। उनके पिता शिव कुमार राशन दुकान चलाते थे। यहां उनका पुश्तैनी मकान भी था। युवावस्था से ही अजय बड़े महत्वाकांक्षी थे। पहले दिल्ली में उन्होंने एक होटल में नौकरी की। भाई राजेश गुप्ता व अतुल के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका में सहारा कंप्यूटर्स की नींव रखी। सहारनपुर के हकीकत नगर भगत सिंह कॉलोनी में भी करीब 12 वर्ष पहले सहारा कंप्यूटर्स के भव्य शोरूम का उद्घाटन हुआ था। भव्य शिवधाम की नींव रखी अजय गुप्ता ने अपने पिता की स्मृति में बाबा लालदास घाट परिसर में तीन साल पहले भव्य शिवधाम का निर्माण आरंभ कराया था।

उद्घाटन पर तत्कालीन सपा सरकार के आधा दर्जन से अधिक मंत्री शामिल हुए थे। 2016 में अजय ने बेटे कमल की शादी की। रिसेप्शन के लिए कई विदेशी मेहमान आए थे। मेहमानों को देहरादून रोड पर बनाए गए हेलीपैड पर उतारा गया था।

 

प्लेन की लैंडिंग भी रही थी चर्चित

दक्षिण अफ्रीका में एक पारिवारिक समारोह में शामिल होने के लिए भारत से अप्रैल 2013 में 217 मेहमान दक्षिण अफ्रीका गए थे। यह प्लेन प्रिटोरिया के एयरफोर्स बेस में उतरवा दिया गया था। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका की राजनीति में बड़ा भूचाल आया था।

धोखाधड़ी के मामले में वकील को हुई थी जेल

अजय के बहनोई अनिल गुप्ता से जमीन के नाम पर सवा करोड़ रुपए हड़पने वाले अधिवक्ता राव किल्लन पिछले सोमवार को समर्पण कर जेल चले गए। जांच अधिकारी संजीव भटनागर के अनुसार, पिछले साल दिल्ली रोड निवासी राजेंद्र भाटिया की जमीन दिखाकर राव किल्लन ने अनिल गुप्ता से एक करोड़ 32 लाख रुपए ठग लिए थे। महाशिवरात्रि पर किया जलाभिषेक रानी बाजार स्थित श्री बाबा पातालेश्वर महादेव मंदिर में एनआरआई अजय गुप्ता ने भाई अतुल गुप्ता व बहनोई अनिल गुप्ता के साथ मंदिर में जलाभिषेक किया था। अजय गुप्ता की देहरादून में होने की चर्चा है।

पंजाब नेशनल बैंक घोटालाः नीरव मोदी के 9 ठिकानों पर ईडी के छापे

 

जैकब जुमा का परिवार आया था घेरे में

दक्षिण अफ्रीका जाने के बाद गुप्ता परिवार ने सबसे पहले कम्प्यूटर व्यापार शुरू किया था। फायदा होने के बाद खनन और इंजीनियरिंग कंपनियों के साथ ही लग्जरी गेम लाउंज, एक समाचार पत्र और एक खबरिया टीवी स्टेशन में भी हिस्सेदारी खरीदी। परिवार पर वहां आरोप लगा कि भ्रष्ट सौदों के जरिए प्रभाव का इस्तेमाल कर कई ठेके अपने नाम कराए। साउथ अफ्रीका के राष्ट्रपति जैकब जुमा भी आरोपों के घेरे में आए। हालांकि, जैकब जुमा ने कहा था कि गुप्ता परिवार के साथ उनके दोस्ताना रिश्ते जरूर हैं, लेकिन कुछ भी अनुचित नहीं किया गया है।

You may also like

अखिलेश के ट्वीट पर नीति आयोग के एडवाइजर ने उठाए सवाल, मिला ये जवाब

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी