गजब… बेटे के अंतिम संस्कार के बाद भी बेटा मिला जिन्दा

- in ज़रा-हटके

ये वाकई अजब गजब घटना है जिसमें एक परिवार अपने बेटे का अंतिम संस्कार कर देता है और अगले दिन बेटा जिंदा मिल जाता है। ये अजब गजब घटना यूपी के अमरोहा की है। यहां कटरा बख्तर इलाके में जगदीश सचदेवा रहते हैं जिनकी कपड़े की दुकान है। इनका एक बेटा है नरेश सचदेव। वो मानसिक रूप से कमजोर है और कपड़े की दुकान में बैठा रहता है। रविवार को किसी ने सूचना दी कि नरेश ने रेलवे स्टेशन पर खुदकुशी कर ली है या फिर वो रेल से कट गया। हैरान परेशान परिवार रेलवे स्टेशन पहुंचा और उसकी शिनाख्त की। पोस्टमार्टम के बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया।

ईश्वर की मर्जी

अगले दिन पूरा परिवार शोक में डूबा हुआ था। रिश्तेदार और परिचित परिवार को सांत्वना देने पहुंच रहे थे। हर कोई कह रहा था कि होनी को कोई नहीं टाल सकता। ईश्वर की मर्जी के आगे किसी की नहीं चलती। अचानक कोई उनके घर पहुंचा और उसने बताया कि उनका बेटा नरेश तो रेलवे स्टेशन पर घूम रहा है और वो खुद देखकर आया है। बस फिर क्या था, अचानक किसी को विश्वास नहीं हुआ, फिर भी परिवार रेलवे स्टेशन पर पहुंचा तो देखकर खुशी का ठिकाना नहीं रहा। नरेश जिंदा था और रेलवे स्टेशन पर घूमता हुआ मिल गया।

वो कौन था

परिवार वाले उसे घर ले आए लेकिन अब उनकी ये समझ में नहीं आ रहा है कि आखिर वो कौन था, जिसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। पुलिस भी इस गुत्थी को सुलझाने में लगी है कि आखिर ये शख्स कौन है। वो ट्रेन से क्यों कटा। इसे कहते हैं कि ईश्वर की मर्जी। एक परिवार जिसने अपने बेटे को मरा समझ लिया और उसका विधि विधान से अंतिम क्रिया कर दी। पूरे परिवार ने शोक मना लिया और ये सोच लिया कि अब उनका बेटा लौटकर नहींं आएगा लेकिन अगले दिन ही बेटा वापस आ गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हज़ारों साल पहले गायब हो गया था ये शहर, इस तरह आया सामने…

कई बार ऐसी चीज़ों सामने आ जाती हैं