महिला प्रधान फिल्मों को लेकर सोहा का बड़ा बयान

- in मनोरंजन

बॉलीवुड की खूबसूरत अभिनेत्री सोहा अली खान का कहना है कि, आज के दौर में फिल्म उद्योग को ज्यादा संख्या में साहसी निर्माताओं और लेखकों की जरूरत है, क्योंकि अभी भी महिला प्रधान फिल्में कम बन रही हैं. हाल ही में हुए एक इंटरव्यू में सोहा अली ने अपने बयान में कहा कि, “मुझे लगता है कि हमें और अधिक साहसी निर्माताओं और लेखकों की जरूरत है, क्योंकि जहां तक महिला कलाकारों का सवाल है तो, देश में कई अविश्वसनीय प्रतिभाएं मौजूद हैं.”महिला प्रधान फिल्मों को लेकर सोहा का बड़ा बयान

दरअसल हाल ही में सोहा ने कोलकाता के एक कार्यक्रम शिरकत की. जहां पर उन्होंने कहा कि, उन्हें लगता है कि कुछ चीजे बदल रही है आज सभी आयु वर्ग की महिलाओं के लिए ज्यादा अच्छी भूमिकाएं हैं. उनका कहना है कि, महिला प्रधान फिल्में बनती हैं तो है लेकिन फिर भी उनकी संख्या कम है. बता दे कि, सोहा ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत अभिनेता शाहिद कपूर के साथ फिल्म ‘दिल मांगे मोर’ से की थी.

इसके बाद सोहा फिल्म रंग दे बसंती, बंगाली फिल्म रंग दे महल जैसी फिल्मो में नजर आई. ख़ास बात यह है कि, सोहा की रंग दे बसंती एक मल्टी स्टारर फिल्म थी. जिसने बॉक्स ऑफिस पर अपनी सफलता के झंडे गाड़ दिए थे. इस फिल्म में सोहा के साथ आमिर खान जैसे दिग्गज कलाकार थे. बता दे कि, उन्होंने अपने करियर में कई फ़िल्में की लेकिन वह अभी तक एक हिट फिल्म के लिए तरस रही हैं.

=>
=>
loading...

You may also like

प्रीतम ने तैयार किया ‘बॉम्बे बीअर्ड बीट’ गाना

बॉलीवुड के दिग्गज संगीतकार प्रीतम के गाने और