तो ये हैं जींस के छोटी पॉकेट की असली कहानी, जानकर आप भी हो जाएगे हैरान…

आज के समय में कपड़ों के फैशन में जींस को जरूर शामिल किया जाता हैं जो पुरुष हो चाहे महिलाएं सभी पहनना पसंद करते हैं। जींस का फैशन कभी भी ‘आउट ऑफ फैशन’ नहीं हुआ और शायद ही आगे कभी होगा। लेकिन क्या आपने कभी गौर किया हैं कि जींस में पॉकेट के पास एक छोटी पॉकेट भी होती हैं। क्या आप जानते हैं कि उसका काम क्या है। आज हम आपको इस छोटी पॉकेट की कहानी बताने जा रहे हैं जो बेहद रोचक हैं। एक समय ऐसा भी था, जब केवल कंपनियों में काम करने वाले मजदूर ही जींस पहनते थे, लेकिन आज आम से लेकर खास ये सबकी पहली पसंद बन चुकी है।

बता दें कि जींस का आविष्कार खदान में काम करने वाले मजदूरों के लिए किया गया था। उस दौरान पॉकेट घड़ी का चलन था। ऐसे में मजदूर घड़ी को इस छोटी पॉकेट में रखते थे, ताकि टूटे नहीं। धीरे-धीरे ये छोटी पॉकेट जींस का अहम हिस्सा बन गया। जींस बनाने की कंपनी लेवी स्ट्रॉस, जिसे हम लिवाइस के नाम से जानते हैं, सबसे पहले उसने इस छोटी पॉकेट को बनाया। इस छोटी पॉकेट को वॉच पॉकेट कहते हैं।

हालांकि, अब कई लोग इस पॉकेट को कॉइन या टिकट पॉकेट के नाम से जानते हैं। जींस की जेब पर लगे छोटे बटन के बारे में बात करें तो ये बटन भी मजदूरों को ध्यान में रखकर ही लगाए जाते थे। बता दें कि मजदूर भारी-भरकम काम करते थे, इसलिए पॉकेट पर छोटे-छोटे बटन लगाए जाते थे, ताकि इनकी सिलाई मजबूत रहे और इसे लंबे समय तक इस्तेमाल में लाया जा सके। हालांकि, इन छोटे बटनों को अब जींस का डिजाइन मान लिया गया है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 2 =

Back to top button