तो इस वजह से बंद हो सकती है PNB की सबसे बड़ी ब्रांच…

- in कारोबार

नई दिल्ली: 13,758 करोड़ का घोटाला झेल रहे पंजाब नेशनल बैंक की ब्रैडी हाउस ब्रांच बंद हो सकती है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैंक ने अपनी ब्रांच को शिफ्ट करने का फैसला किया है. हालांकि, बैंक ने इस बात से साफ इनकार किया है कि वह ब्रांच को पूरी तरह बंद कर रहा है. पीएनबी बैंक के आधिकारिक बयान के मुताबिक, सिर्फ कुछ कॉरपोरेट अकाउंट्स को ट्रांसफर किया जा रहा है. यह एक रिस्ट्रक्चरिंग प्रोसेस का हिस्सा है. बैंक का दावा है कि आंतरिक सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए इस तरह की रीस्ट्रक्चरिंग की जाती है. ब्रांच को पूरी तरह बंद करने का सवाल ही नहीं है.तो इस वजह से बंद हो सकती है PNB की सबसे बड़ी ब्रांच...

कॉरपोरेट बैंकिंग होगी शिफ्ट
नीरव मोदी के घोटाले की वजह से चर्चा में आई बैंक की ब्रैडी ब्रांच के बंद होने की चर्चा है. हालांकि, बैंक ने इस पर विराम लगा दिया है. लेकिन, सूत्रों की मानें तो बैंक मैनेजमेंट ने इस ब्रांच को बंद करना चाहता है. ब्रांच में अब किसी तरह की कॉरपोरेट बैंकिंग नहीं होगी. बड़े अकाउंट्स को शिफ्ट कर दिया जाएगा. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, बैंक इस शाखा से ऑपरेट होने वाले सभी अकाउंट को किसी दूसरी ब्रांच में शिफ्ट किया जाएगा. 

बैंक की साख पर लगा बट्टा
रॉयटर्स के मुताबिक, पीएनबी मैनेजमेंट ने माना है कि ब्रैडी ब्रांच से हुए घोटाले से बैंक की साख पर बट्टा लगा है. बता दें, मुंबई की इस शाखा के साल 2011 से 2017 के बीच हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने बैंक को करीब 14 हजार करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचाया था. 

आजादी से पहले की है ब्रांच
पीएनबी की मुंबई स्थित ब्राडी हाउस शाखा का कार्यालय आजादी से पहले बनी बिल्डिंग में है. इस शाखा में बैंक के विदेशी मुद्रा विभाग के साथ-साथ मध्यम आकार के कॉरपोरेट अकाउंट चलते हैं. इसके अलावा शाखा में कुल रिटेल बैंकिंग भी होती है. सूत्रों के मुताबिक, विदेशी मुद्रा विभाग और कॉरपोरेट अकाउंट को तत्काल प्रभाव से शिफ्ट किया जाएगा. हालांकि, रिटेल बैंकिंग को यहीं से ऑपरेट किया जाएगा.

कॉरपोरेट शाखाओं में शिफ्ट होंगे खाते
सूत्रों के मुताबिक, ब्रैडी हाउस के बड़े कॉरपोरेट खातों को दूसरी कॉरपोरेट शाखा में ट्रांसफर किया जाएगा. इनमें 50 करोड़ रुपए तक खाते वालों को सबसे पहले शिफ्ट किया जाएगा. वहीं, दूसरे बड़े खातों को आसपास की शाखा में शिफ्ट करने की प्लानिंग है. बैंक ने इसे रेगुलर रीस्ट्रक्चरिंग प्रोसेस बताया है. 

घोटाले से पहले टॉप परफॉर्मिंग ब्रांच
मुंबई की ब्रैडी हाउस शाखा पंजाब नेशनल बैंक की सबसे टॉप परफॉर्मिंग शाखा थी. ब्रैडी हाउस में ही नीरव मोदी और चौकसी के अकाउंट थे. इनके अकाउंट के दम पर ब्रैडी हाउस ब्रांच टॉप परफॉर्मिंग ब्रांच बनी थी. हालांकि, घोटाले के बाद से यही ब्रांच उसकी सबसे घाटे वाली ब्रांच में शुमार हो गई. हालांकि, घोटाले से पहले बैंक मैनेजमेंट को पता था कि मुंबई की इस शाखा में बड़े स्तर पर कर्ज देने का काम हो रहा है, लेकिन इस पर कभी कोई एक्शन नहीं लिया गया. फिलहाल, सूत्रों का दावा है कि बैंक शाखा को धीरे-धीरे बंद करने का फैसला लिया जा सकता है. 

जांच में स्वीकार की थी खामियां
पीएनबी की एक आंतरिक रिपोर्ट में बैंक ने माना था कि क्रेडिट रिव्यू और इंटरनेशनल बैंकिंग शाखा में कई सुरक्षा खामियों के चलते घोटाले को इतने लंबे समय तक नहीं पकड़ा जा सका. इस रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि बैंक की अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग शाखा और आईटी डिपार्टमेंट ने लंबे समय तक बैंक के आंतरिक सूचना संचार के काम को पूरा नहीं किया, जिसके चलते मुबंई की शाखा से लगातार जारी हो रहे बैंक गारंटी की सूचना दबी रही और इस घोटाले की भनक नहीं लगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यहां होगी ईशा अंबानी की सगाई, हॉलीवुड सेलिब्रिटीज की भी पसंदीदा जगह

शुक्रवार, 21 सितंबर को ईशा अंबानी और आनंद