पटियाला: दलित महिला से छह लोगों ने किया गैंगरेप

- in अपराध

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के गृहनगर पटियाला में एक दलित महिला के साथ हुए गैंगरेप के मामले ने पंजाब पुलिस की कारगुजारी पर सवाल खड़े कर दिए हैं. हालांकि पुलिस ने महिला के पति की शिकायत के आधार पर छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

महिला के पति ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि वह जानबूझकर मामले की छानबीन में देरी कर रही है, क्योंकि गैंगरेप के सभी आरोपी राजनीतिक तौर पर प्रभावशाली हैं. महिला के परिजनों का आरोप है कि आरोपी खुले घूम रहे हैं. पुलिस उनको जानबूझकर गिरफ्तार नहीं कर रही है.

यह मामला बीते शुक्रवार का है. 36 वर्षीय दलित महिला घर पर अकेली थी. महिला का पति दुबई में रहता है और हाल ही अपने गांव लौटा था. वारदात के दिन वह घर पर नहीं था. पुलिस को दी गई शिकायत के मुताबिक महिला को पहले घर से अगवा किया गया. उसे मारा पीटा गया.

इसके बाद में एक आटे की मिल में कथित तौर पर छह आरोपियों ने बारी-बारी से उसका बलात्कार किया. पीड़ित महिला को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. गैंगरेप के आरोपी पीड़ित महिला के गांव में ही रहते हैं. उन पर शंभू पुलिस स्टेशन में रेप और एसी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज है.

भ्रष्टाचार के आरोप में नायब तहसीलदार सस्पेंड, वेतन रोकने का भी आदेश जारी

आरोपियों के खिलाफ जातीय टिप्पणियां करने का आरोप भी लगाया गया है. एफआईआर में कहा गया है कि आरोपियों की उम्र 20 से 30 वर्ष के बीच है. उन्होंने महिला के घर में जबरन घुसकर हथियारों के बल पर उसका अपहरण किया. पुलिस के मुताबिक सभी आरोपियों की पहचान की जा चुकी है.

पुलिस का कहना है कि फिलहाल सभी आरोपी फरार हैं. अभी तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया है. सोमवार को दलित संगठनों के पंजाब बंद आह्वान के चलते महिला का मेडिकल नहीं करवाया जा सका. पुलिस महिला की मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की योजना में है.

You may also like

तो इसलिए पति ने पत्नी से कह दी अपने पिता से संबंध बनाने की बात, सुनकर आ जाएंगे आंखों में आंसू

महिला का कहना है कि ससुर के साथ