इमरान के शपथ ग्रहण समारोह में सिद्धू ने जाने की तैयारी, पहुँचे पाकिस्तान हाई कमीशन दफ्तर

चंडीगढ़। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने जा रहे पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ (पीटीआइ) के चेयरमैन इमरान खान ने अपने शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पूर्व क्रिकेटर और स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को निमंत्रण पत्र भेजा है। सिद्धू ने शपथ ग्रहण समारोह में जाने के लिए कागजी कार्यवाही करनी शुरू कर दी है।इमरान के शपथ ग्रहण समारोह में सिद्धू ने जाने की तैयारी, पहुँचे पाकिस्तान हाई कमीशन दफ्तर

इस सिलसिले में सिद्धू सोमवार को दिल्ली स्थित पाकिस्तान हाई कमीशन के दफ्तर में पहुंचे और कागजी कार्यवाही पूरी करने की प्रक्रिया शुरू की। सिद्धू ने कहा कि वह कुछ औपचारिकताएं पूरी करने के लिए यहां पहुंचे हैं। सिद्धू ने कहा, मैंने सरकार से पाकिस्तान जाने की अनुमति मांगी है। अब यह सरकार पर तय करता है कि वह उन्हें पाकिस्तान जाने की अनुमति देती है या नहीं?

सिद्धू शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने बारे में केंद्रीय गृह मंत्रालय और पंजाब के मुख्यमंत्री कार्यालय को पहले ही सूचना दे चुके हैं। इसके इलावा इस्लामाबाद जाने संबंधी औपचारिक कार्यवाही के लिए पंजाब सरकार के सचिव प्रोटोकॉल कृपाशंकर सरोज को भी उन्होंने कह दिया था।

बता दें, इमरान खान की पार्टी की जीत पर सिद्धू ने इमरान खान के कसीदे पढ़े। कहा, खान साहब भारत-पाकिस्तान के संबंधों के बीच एक नया विश्वास जगाने में कामयाब होंगे। उन्‍होंने इमरान खान के साथ क्रिकेट के मैदान में हुए मुकाबले को भी याद किया। सिद्धू ने कहा कि जब मैंने इमरान खान की गेंदबाजी का पहली बार सामना किया तो वह क्षण आज भी याद है। उन्‍होंने पहली गेंद फेंका तो फिसल कर गिर गए। बात 1983 में फरीदाबाद की है। इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान जाने की तैयारी कर रहे नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि खान साहिब उस समय पीक पर थे और मैं पहली बार बोर्ड एकादश की तरफ से ओपनिंग कर रहा था।

उस दिन को याद करते हुए सिद्धू ने कहा पहली गेंद पर इमरान खान भले ही गिर गए, लेकिन अगली गेंद सनसनाती हुई आई और सीधे मेरे पेट पर लगी। सिद्धू ने इमरान खान के शान में कसीदे पढ़ते हुए कहा कि खान साहिब वह शख्स हैं जो लोगों में विश्वास पैदा करते हैं। उन्होंने कहा कि 1992 में कोई सोच नहीं सकता था कि पाकिस्तान विश्वकप जीत सकता है। इमरान खान का ही नेतृत्व था जिसके कारण पाकिस्तान विश्व कप जीत सका। सिद्धू ने कहा कि इमरान खान ही थे जिन्होंने वसीम अकरम, वकार यूनुस, इंजमाम उल हक को अंतरराष्‍ट्रीय स्तर पर ले कर आए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

इमरान खान का मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को नरेंद्र