जब PM मोदी ने कांग्रेस पार्टी को दिलवाली नहीं डीलवाली बताया तो सिद्धारमैया ने जताई आपत्ति

कर्नाटक विधानसभा चुनावों के लिए जोरशोर से प्रचार अभियान में जुटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को ‘डील पार्टी’ बताया, जिसे पूरे देश से उखाड़ा जा रहा है. मोदी ने कहा, “कांग्रेस न दिलवाली है और न दलितवाली, ये पार्टी तो बस डीलवाली पार्टी है.” पीएम ने साथ ही कहा कि कोई भी इस पार्टी को नहीं बचा सकता.जब PM मोदी ने कांग्रेस पार्टी को दिलवाली नहीं डीलवाली बताया तो सिद्धारमैया ने जताई आपत्ति

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर समाज को बांटने की साजिश के तहत ‘इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने’ का आरोप लगाया है. जिसके बाद कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने भी उनपर पलटवार किया. पीएम के बयान पर आपत्ति जाहिर करते हुए सिद्धारमैया ने कहा कि किसी प्रधानमंत्री को ऐसे बयान देना शोभा नहीं देता. उन्हें इस तरह के शब्दों के इस्तेमाल से बचना चाहिए.

सिद्धारमैया ने कहा, “बतौर प्रधानमंत्री हम मोदी से गरिमायी और भद्र भाषा की उम्मीद करते हैं. लेकिन, रैलियों में मोदी जो भी कहते हैं, वो बीजेपी की भाषा होती है. कोई भी सभ्य व्यक्ति ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करता. मोदी जिस तरह की भाषा में बात कर रहे हैं, वो एक प्रधानमंत्री की भाषा नहीं हो सकती.”पीएम मोदी ने कांग्रेस पर भ्रष्टाचारियों को बचाने, बांटो और राज करो की नीति अपनाने, झूठे वादे करने और ‘मोदी को गाली देने’ के सिवा कोई एजेंडा नहीं होने के आरोप लगाए.रायचूर में दूसरी रैली करते हुए मोदी ने कहा, “ऐसे कई लोग हैं.

जो एसी रूम में बैठकर कर्नाटक में त्रिशंकु विधानसभा होने की बात कर रहे हैं. मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि आप रायचूर आइए और वोटर्स का मूड देखिए.” उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस कहीं भी नहीं है. यहां बीजेपी का कमल खिलेगा.मोदी ने कहा, “कांग्रेसी पानी के पैसे चबा गए, कांग्रेस पानी के साथ पापाचार करती है, इसलिए उसका यहां नामोनिशान नहीं रहना चाहिए. आदिवासियों के हॉस्टल में उनके बिस्तर के पैसे भी मार गए. ये आपके घर के बिस्तर भी मार जाएंगे.”

8 मई को बीजापुर में बोलेंगी सोनिया गांधी

कर्नाटक चुनाव में अगर बात करें कांग्रेस की, तो बीजेपी के आगे कांग्रेस पार्टी का प्रचार थोड़ा धीमा जरूर पड़ रहा है. ऐसे में प्रचार अभियान को गति देने के लिए पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी तैयार हैं. ऐसी खबर है कि सोनिया गांधी 8 मई को बीजापुर में कांग्रेस की एक रैली को संबोधित करेंगी. राहुल गांधी के कांग्रेस के अध्यक्ष बनने के बाद यह पहली बार है, जब सोनिया गांधी चुनाव प्रचार करने जा रही हैं. बता दें कि 224 विधानसभा सीटों वाले कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होने हैं. नतीजे की घोषणा 15 मई को होगी. राज्य में कांग्रेस, बीजेपी के बीच सीधा मुकाबला है, जबकि जेडीएस को तीसरा प्लेयर माना जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आज का राशिफल और पंचांग: 20 जुलाई दिन शुक्रवार, जानिए किसपर रहेगी माँ संतोषी की नजर

।।आज का पञ्चाङ्ग।। आप सभी का मंगल हो 20