शास्त्री बोले, पिच और परिस्थितियों को कभी बहाना नहीं बनाएंगे

- in खेल

चेम्सफोर्ड। भारतीय कोच रवि शास्त्री ने बुधवार को कहा कि वर्तमान टीम शिकायत करने में विश्वास नहीं रखती और इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की संभवत : कड़ी श्रृंखला के दौरान अपने प्रदर्शन के लिए मुश्किल परिस्थितियों का बहाना नहीं बनाएगी।

रिपोर्टों में कहा गया था कि भारतीय टीम प्रबंधन एसेक्स काउंटी ग्राउंड की पिच और आउटफील्ड को लेकर खुश नहीं था जहां एकमात्र अभ्यास मैच चार के बजाय तीन दिन का कर दिया गया और इसका कारण गर्मी को बताया गया। लेकिन शास्त्री ने अपने चिरपरिचित अंदाज में कहा कि उनकी टीम बहाने नहीं बनाती।

शास्त्री ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि मेरा सिद्वांत साफ है – आपके देश में मैं सवाल नहीं करता और मेरे देश में आप सवाल नहीं करना। मैंने (मैदानकर्मियों) ) कहा कि घास रहने दो और कुछ भी हटाओ नहीं। उन्होंने कहा कि इस दौरे में आप किसी भी समय भारतीय टीम को पिच या परिस्थितियों लेकर बहाना बनाते हुए नहीं देखोगे।

हम जहां भी जाते हैं वहां अपने प्रदर्शन पर गर्व महसूस करते हैं और हम विश्व में विदेशी दौरे पर सबसे अच्छा व्यवहार करने वाली टीम बनना चाहते हैं। यह भारतीय टीम शिकायत करने वाली आखिरी टीम होगी , इसलिए मैं इसे साफ तौर पर स्पष्ट करना चाहता हूं। शास्त्री ने यहां की पिच के बारे में कहा कि इस (पिच) पर अच्छी घास है।

मैदानकर्मियों ने कहा कि क्या हम चाहते हैं कि इससे घास हटायी जाए , मैंने कहा कि कतई नहीं। यह आपका एकाधिकार है। आप विकेट तैयार करते हो और हम खेलते हैं इसलिए जब आप हमारे देश आओगे तो आप (पिचों को लेकर) कोई सवाल नहीं कर सकते।

उन्होंने कहा कि जहां तक मैच को 3 दिन करने का सवाल है तो उसका क्रिकेटिया कारण भीषण गर्मी है तथा टीम एक अगस्त से बर्मिघम में शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच से पहले बेहतर तैयारी चाहती है। शास्त्री ने कहा कि मौसम और अन्य सुविधाओं को देखते हुए मैच को चार से तीन दिन का कर दिया गया। हमें बॄमघम में तीन दिन अभ्यास करने का मौका मिलेगा जहां पहला टेस्ट मैच खेला जाना है।

उन्होंने कहा कि अगर हम चार दिन का मैच खेलते तो एक दिन हमारा यात्रा पर लगेगा। यह दौरा करने वाली टीम का एकाधिकार है कि वे 2 दिवसीय , तीन दिवसीय या चार दिवसीय अभ्यास मैच खेलना चाहती है और हमने उसका उपयोग किया। शास्त्री ने कहा कि मैच की अवधि कम करने का फैसला मंगलवार को अभ्यास के दौरान किया गया। उन्होंने कहा कि यह फैसला कल (अभ्यास के दौरान) किया गया।

हमने उनसे (एसेक्स के अधिकारियों) बात की और उन्होंने हमें टिकटों की बिक्री और अन्य चीजों के बारे में बताया। हम यहां तक कि 2 दिवसीय मैच खेलने पर भी खुश थे और उस एक दिन का उपयोग यहां अभ्यास करके करते। लेकिन उन्होंने टिकटों और अन्य व्यवस्थाओं की बात की और तब हमने कहा कि ठीक है हम तीन दिवसीय मैच खेलेंगे।

शास्त्री ने कहा कि असल में वे एजबेस्टन में रविवार को अभ्यास करना चाहते थे। उन्होंने कहा कि हम शनिवार को बर्मिंघम पहुंचेंगे और ऐसे में रविवार को अभ्यास कर सकते हैं। इसका कारण टेस्ट मैच स्थल से सामंजस्य बिठाना है क्योंकि यहां एक अतिरिक्त दिन बिताने से कोई मतलब हल नहीं होता। वहां एक अतिरिक्त दिन बिताने से हमें वहां की परिस्थितियों से तालमेल बिठाने में मदद मिलेगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

IND vs PAK LIVE: पाकिस्तान ने जीता टॉस, पहले बैटिंग का फैसला

पाकिस्तान ने रविवार को भारत के खिलाफ एशिया