भोपाल में शाह ने भरी हुंकार, कार्यकर्ता कांग्रेस को मूल समेत उखाड़कर फेंक दें

भोपाल। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मध्यप्रदेश में चुनावी हुंकार भर दी है। शाह ने लगातार चौथी बार प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाने का दावा करते हुए कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया। शाह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि इस बार जीत का अंतर ऐसा होना चाहिए कि विरोधियों की आवाज ही बंद हो जाए। कार्यकर्ता अब से लेकर काउंटिंग तक खुद को पूरी तरह पार्टी के लिए झोंक दें और कांग्रेस को मूल समेत उखाड़कर फेंक दें। अपने संबोधन में शाह ने कांग्रेस पार्टी और उनके अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर हमला भी बोला।भोपाल में शाह ने भरी हुंकार, कार्यकर्ता कांग्रेस को मूल समेत उखाड़कर फेंक दें

भोपाल के भेल दशहरा मैदान पर प्रदेश स्तरीय विस्तारित बैठक को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि इस बार भी कार्यकर्ता जीत का संकल्प लें। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि इस बार जीत का अंतर इतना ज्यादा हो कि विरोधियों की आवाज बंद हो जाए। जीत ऐसी हो कि दुश्मनों को दिल के दौरे पड़ जाएं। कार्यकर्ता प्रदेश के साथ अभी से ही लोकसभा चुनावों के लिए तैयारी में जुट जाएं। कार्यकर्ता अभी से लेकर काउंटिंग तक खुद को झोंक दें और कांग्रेस को मूल समेत उखाड़कर फेंक दें।

कांग्रेस में हमें हराने का दम नहीं

शाह ने कहा कि एक बार उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का बयान सुना था जिसमें वो दावा कर रहे थे इस बार मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी। उनका बयान सुनकर मैं हैरत में था कि राहुल गांधी आखिर किस आधार पर ऐसा कह रहे है। कांग्रेस शेख चिल्ली के सपने देख रही है। कांग्रेस में दम नहीं है कि मध्यप्रदेश में भाजपा को हरा सके।

कांग्रेस ने देश को बांटने का काम किया

शाह ने अपने संबोधन में कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश को बांटने का काम कर रही है। जातिवाद से लेकर साम्प्रदायिकता के मुद्दे उठा रही है। कांग्रेस पार्टी ने हिन्दू आतंकवाद, भगवा आतंकवाद जैसे शब्द गढ़कर हिन्दू संस्कृति को अपमानित किया। फर्जी केस बनाकर हिन्दुओंं को बदनाम किया गया। हिन्दू आतंकवाद के नाम पर गलत धारणाएं फैलाई गईं। यहां तक की कांग्रेस ने उपराष्ट्रपति से लेकर अन्य संवैधानिक पदों को भी विवादों में घसीटकर देश को नीचा दिखाने का काम किया है। इसके उलट केंद्र में पीएम नरेंद्र मोदी जी सबको जोड़ने का काम कर रहे हैं। वे सबका साथ, सबका विकास की बात कर रहे हैं।

प्रदेश में एंटी इंकम्बंसी नहीं

अमित शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं में उत्साह भरते हुए कहा कि कुछ लोग प्रदेश में एंटी इंकम्बंसी की बात कह रहे हैं लेकिन कार्यकर्ता ये याद रखें कि ये शब्द कांग्रेस की सरकारों के साथ जुड़ा है क्योंकि सत्ता में रहते हुए कांग्रेसी उसे भोगने में लगे रहते हैं। इसलिए एंटी इंकम्बंसी का असर कांग्रेस पर होता है, भाजपा के साथ नहीं। कार्यकर्ता इसी हौसले के साथ जनता के बीच जाएं। कार्यकर्ता अंतिम व्यक्ति तक पहुंंचे।

इन दो क्षेत्रों में भी जीत होगी

शाह ने अपने संबोधन के अंत में दो क्षेत्रों का जिक्र किया। उनका इशारा चंबल और महाकौशल क्षेत्र की ओर था। शाह ने कहा कि प्रदेश में दो क्षेत्र ऐसे हैं जहां भाजपा को जीत के लिए संघर्ष करना पड़ता है, लेकिन इस बार इन दोनों क्षेत्रों में हमारी जीत होगी। मोदी जी, शिवराज जी और राकेश जी के नेतृत्व में भाजपा की जीत तय है।

नींद टूटी तो समझ जाते थे मप्र आ गया

शाह ने प्रदेश की पूर्ववत कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मध्यप्रदेश पहले बीमारु राज्यों में आता था। हम गुजरात से महाकाल के दर्शन के लिए आते थे तो सड़कों में गड्ढे आते ही हमारी नींद टूट जाती थी और हमें पता चल जाता था कि मप्र आ गया। लेकिन जब से मप्र में भाजपा की सरकार आई तब से यहां विकास की राह बनीं। शिवराज जी के नेतृत्व में मप्र बीमार राज्य से प्रगतिशील राज्य बना है। मप्र लगातार कई वर्षों से सबसे ज्यादा विकास दर और कृषि दर वाला राज्य बना हुआ है।

कार्यकर्ता पटाखें तैयार रखें

अपने संबोधन की शुरुआत में अमित शाह ने भाजपा के विस्तार का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद हमने कई चुनाव जीते। हमने 14 राज्यों में भाजपा की सरकार बनाई। अब 15वें राज्य कर्नाटक की बारी है। कार्यकर्ता पटाखें तैयार रखें, कर्नाटक में भाजपा की ही जीत होगी।

भाजपा का मुकाबला कोई नहीं कर सकता: शिवराज

इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि 15 सालों में हमने प्रदेश की तस्वीर बदली है। कांग्रसे के शासनकाल में मध्यप्रदेश की गिनती पिछड़े राज्यों में होती थी लेकिन हमने हर क्षेत्र में काम किया। कृषि दर, विकास दर के आंकड़े ये बयां करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का मुकाबला कोई नहीं कर सकता। उन्होंने ये भी कहा कि मेरे कुर्सी छोड़ने वाले बयान पर कांग्रेसी उछल पड़े। उन्होंने सपने देखना भी शुरु कर दिया था।

सीएम ने अमित शाह की जमकर तारीफ की। उन्होंने अमित शाह को भारत की राजनीति का चमत्कार बताते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनी। इस बैठक में करीब 5 हजार पदाधिकारी-कार्यकर्ता मौजूद थे। इनमें प्रदेश भाजपा कोर ग्रुप के सदस्य, प्रदेश कार्यकारिणी, सांसद, विधायक, पिछला चुनाव लड़े उम्मीदवार, जिला पदाधिकरी, मंडल अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, विभिन्न मोर्चे के पदाधिकारी शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

नवजोत सिद्धू की पॉलिसी दरकिनार कर बाजवा लाएंगे ये नई पॉलिसी

लुधियाना। स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की