यहां पर बता दें कि पिछले दिनों उत्तर भारत के अधिकांश हिस्सों में मौसम का मिजाज बेहद खतरनाक बना हुआ था। धूल भरी आंधी-तूफान की वजह से कई शहरों का जीवन अस्त-व्यस्त हो चुका था। यहां तककि कई राज्यों में लोगों की मौत भी गई थी। उत्तर प्रदेश और राजस्थान में ही 100 से अधिक लोग आधी-तूफान की चपेट में आकर मारे गए थे।